डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत चीन तनाव पर दिया बड़ा बयान, बोले ये कुछ ज्यादा ही मुश्किल..

335

अब भारत और चीन की सेनाओं के बीच में जो टकराव हुआ है वो इस रीजन का मुद्दा नही रह गया है बल्कि इसने एक लम्बी छलांग लगा दी है और इस पर इंटरनेशनल लेवल पर बहस होने लगी है जिससे पता चलता है कि कही न कही चीजे सामान्य तो बिलकुल भी नही है. आपको मालूम तो होगा ही कि गलवान घाटी में क्या कुछ हुआ है? इस मामले में अस्थिरता आते हुए देखकर के अब अमेरिका एक्टिवली बोल रहा है ताकि कुछ भी गलत न होने पाए और ये जरूरी भी है कि विश्व कम्यूनिटी ऐसे मुद्दों पर बोले.

ये बड़ी ही मुश्किल स्थिति है, हम उनसे बात कर रहे है
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिकी मीडिया से बात करते हुए कहा कि ये बड़ी ही मुश्किल हालत बनी हुई है. हम भारत से बात कर रहे है, हम चीन से भी बात कर रहे है. दोनों आपस में एक दुसरे पर झपट रहे है और हम देख रहे है क्या किया जा सकता है? हम उन दोनों की ही मदद करने की कोशिश कर रहे है. ट्रम्प ने कुल मिलाकर के शान्ति रखने की बात कही है.

हालांकि अमेरिका का झुकाव भारत की तरफ है. अब ट्रम्प खुद तो सीधे एक मसले में भारत का पक्ष ले नही सकते तो ऐसे में वो अपने लोगो जैसे माइक पोम्पियो और सीनेटरों से ये कहलवा रहे है कि भारत के जवानो के लिए हमें संवेदना है और हम ऐसे वक्त में उनके साथ है. अमेरिका की तरफ से चीन को जमीन हड़पने की कोशिश करने का आरोप भी लगाया गया है और इस तरह से कही न कही उनके बीच में तनाव बढ़ा है.

अगर कूटनीतिक लिहाज से देखे तो फिर कही न कही ये चीज बताती है कि मोदी ने इस मामले में काफी अच्छा काम किया है और आज जब भारत को एक डिप्लोमेटिक सपोर्ट की जरूरत है तो कई देश है जो खुलकर के इस मामले पर भारत के समर्थन में आये है.