भारत और चीन की लड़ाई देखकर घबरा गया नेपाल, दिया ये बड़ा बयान

6203

अब हाल ही में भारत और चीन के बॉर्डर पर जो कुछ भी हुआ है वो हम सब लोगो ने देखा है और ये चीज बड़ी ही बुरी है क्योंकि जिस तरह से चीनियों ने एलएसी पर आकर के बदमाशी की और उसके बाद में उनका भारतीय सेना से संघर्ष हुआ. इसमें भारत के भी 20 जवान लोग शहीद हुए है और चीनियों के 43 के आस पास का नुकसान होने की खबर है. अब इससे दोनों देशो के बीच में टेंशन तो बढ़ेगा ही लेकिन स्थिति बिगड़ने के डर से नेपाल पहले से ही टेंशन में आ गया है.

नेपाल ने की शान्ति की अपील, कहा अगर दोनों भिड़े तो छोटे देश बुरी तरह प्रभावित होंगे
नेपाल के बड़े बड़े मंत्री, नेता और राजनयिक दोनों ही देशो से शांत रहने की अपील कर रहे है. नेपाल की विदेश मंत्री सुजाता कोइराला ने कहा है कि भारत और चीन दोनों ही देशो से हमारे अच्छे सम्बन्ध है और हम उनके संबंधो को भी मजबूत होते देखना चाहते है. अगर भारत और चीन के बीच में संघर्ष हुआ तो इसके परिणाम काफी लम्बे समय तक के लिए होंगे. नेपाल के पूर्व विदेश मंत्री ने भी इसी भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा कि शान्तिपूर्ण तरीके से हल निकाला जाना चाहिए.

नेपाल के काफी जाने माने फेस कहे जाने वाले अखिलेश उपाध्याय ने कहा कि अगर दो बड़े देश लड़ते है तो उनका नुकसान तो होगा ही होगा साथ ही साथ में नेपाल जैसे छोटे देश भी बुरी तरह से प्रभावित होंगे. ये गनीमत है कि दोनों देश कूटनीतिक स्तर पर कम से कम बात तो कर रहे है. इसका जल्द से जल्द शान्तिपूर्ण तरीके से समाधान किया जाए.

नेपाल के इन बयानों से साफ़ नजर आता है कि वो भारत चीन के कनफ्लिक्ट से कितना घबराया हुआ है क्योंकि एशिया में अगर अस्थिरता फैलती है तो नेपाल जैसे छोटे देश कब किसके अंडर चले जाए या फिर कब किसकी चपेट में आ जाए ये कोई भी नही जानता है.