मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निकाला नया आदेश, यूपी के सभी के सभी शिक्षको की..

2386

फिलहाल के दिनों में उत्तर प्रदेश का शिक्षा विभाग काफी ज्यादा आरोपो भरे दौर से गुजरा है जहाँ पर कई सारे गबन की बू आ रही है. अब ये बात तो हम लोग भी बड़े ही अच्छे से जानते है कि अभी हाल ही में अनामिका शुक्ला मामले में क्या हुआ था? एक लड़की के डॉक्यूमेंट पर एक लडकी 25 विद्यालयों में कागज में नौकरी कर रही थी और एक करोड़ से ज्यादा की धांधली कर दी. इससे सब लोग हैरान हो गये कि इतना बड़ा घोटाला कोई कैसे कर सकता है?

योगी सरकार का आदेश, हर शिक्षक के दस्तावेज की जांच हो
अब इस मामले को बढ़ते हुए देखकर के योगी आदित्यनाथ की सरकार की तरफ से आदेश दिया गया है कि उत्तर प्रदेश के हर एक शिक्षक के दस्तावेज की अच्छे तरीके से जांच की जाए और वेरीफाई किया जाए कि वो सही तरीके से नौकरी पर लगा है और उससे जुड़ा हुआ कोई गबन चल नही रहा है. अगर ऐसा कुछ पाया जाता है तो फिर उसके खिलाफ कार्यवाही की जाए. अनामिका शुक्ला मामला सामने आने के बाद में शक बढ़ गया है कि ऐसे ही कई करोडो का गबन हर साल सरकार से छुपकर के किया जा रहा है.

अब इसकी जाँच की जायेगी और जो जो लोग धरे जायेंगे उन सबके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी. हाँ ये तो सब ही जानते है कि देश के सरकारी स्कूलों की हालत बड़ी ही खराब है, इस कारण से माँ बाप उनको वहाँ पर पढ़ाना भी ठीक नही समझते है मगर अब डिपार्टमेंट लेवल पर इस तरह से भ्रष्टाचार चलेगा कि सरकार को शिक्षको के कागजात तक वेरीफाई करने पड़े ये किसी ने भी सोचा न था.

अब खैर जो भी है उम्मीद तो यही की जा सकती है कि जो भी मामला है वो जल्द से जल्द निपटेगा और जिन लोगो ने भी इस तरह से यूपी के शिक्षा विभाग में धांधली की है उनको पकड़ा जायेगा. हाँ इसके लिए जो लोग सही से नौकरी कर रहे है उनको कागज वगेरह वेरीफाई करवाने के लिए थोडा परेशान जरुर होना पड़ेगा.