केजरीवाल दिल्ली में कोरोना रोकने में हो रहे नाकाम, मोदी सरकार ने उठाया बड़ा कदम

2527

आज की तारीख में देश की राजधानी दिल्ली की हालत कितनी बदतर हो रखी है ये बात किसी से भी छुपी हुई नही है. कोरोना के केसेज दिन ब दिन बढ़ते जा रहे है और केजरीवाल सरकार इनको रोक पाने में लगभग लगभग नाकाम ही हो गयी है और ऐसे वक्त में केंद्र को संज्ञान लेना जरूरी भी था. इसलिए केंद्र की तरफ से आज अमित शाह ने एक मीटिंग ली जिसमे केजरीवाल, अनिल बैजल और दिल्ली के मेयर लोग भी शामिल हुए थे. यहाँ पर चर्चा के बाद में कई बड़े फैसले हुए है.

दिल्ली में टेस्टिंग तीन गुना बढेगी, इलाज के लिए लगाए जायेंगे 500 रेलवे कोच
दिल्ली सरकार से मीटिंग के बाद में केंद्र की तरफ से दिल्ली में 500 रेल के कोच लगाने का फैसला किया गया है जो दिल्ली के पास में लगेंगे और ये पूरी सुविधा से लैस कोच है. इन कोच में कोरोना से लड़ने के लिए सारे उपकरण लगे है और इसकी मदद से दिल्ली को लगभग 8 हजार बेड्स अलग से मिल जायेंगे जो कि दिल्ली के लोगो का इलाज करने में काफी हद तक सहायक साबित होंगे.

इसके अलावा दिल्ली में टेस्टिंग को भी अगले छः दिनों में तीन गुना करने का लक्ष्य किया गया है. टेस्टिंग को इसलिए बढाया जा रहा है क्योंकि जितने ज्यादा टेस्ट किये जायेंगे उतने ही ज्यादा लोगो को ठीक किया जा सकेगा और उनसे होने वाला संक्रमण भी रूक जाएगा.  इसके अलावा भी केंद्र ने कई छोटे मोटे फैसले लिए है जिससे कि राजधानी को इस करोना नाम के संक्रमण से दूर किया जाए और आम लोगो को एक खुशहाल जिन्दगी दी जा सके.

सुप्रीम कोर्ट पहले ही दिल्ली में जो हालत हो रही है और कम टेस्टिंग है उस पर चिंता जता चुका है और ऊपर से केजरीवाल पर चीजो को सही से मेनेज न करने के भी खूब आरोप लगे है जो अपने आप में सही भी है. खैर अब देखना ये होता है कि केंद्र इन चीजो को किस हद तक हेंडल कर पाता है.