नेपाल ने तो हद ही पार कर दी, भारत इस हरकत को नही कर पायेगा माफ

2713

फिलहाल के दिनों में भारत और नेपाल के रिश्तो में काफी कडवाहट आयी है. नेपाल लगातार भारत को उकसाने की कोशिश में लगा हुआ है और ऐसी ऐसी हरकते कर रहा है जिनकी कोई जरूरत नही है और क्योंकि भारत एक परिपक्व देश है और नेपाल को भाई सामान मानता है तो उस हिसाब से जवाब दे नही रहा है जैसे दिया जाना चाहिए लेकिन अब हाल ही में नेपाल की संसद में जो हुआ है वो अपने आप में हर किसी को गुस्सा दिलाने वाला और नाराजगी पैदा करने वाला है.

नेपाल की संसद ने पास किया अब नया नक्शा, भारत के बड़े बड़े इलाके अपने हिस्से के बताये
नेपाल ने 18 मई को अपना एक नक्शा जारी किया था जिसमे भारत के कुछ हिस्से अपने में दिखाए थे जिसका भारत ने विरोध किया और इसे नेपाल ने वापिस भी ले लिया लेकिन इस बार काफी बड़े लेवल पर नेपाल ने शत्रुओ वाला काम किया है. नेपाल ने अपनी सदन में एक विधेयक पास किया है और उसके तहत अपने देश यानी नेपाल का एक नक्शा जारी किया है जिसमे कालापानी और कई बड़े बड़े इलाको को अपना बता दिया है.

नेपाल ने अपनी सदन में इस तरह का बिल पास करके पूरी दुनिया में ढिंढोरा पीटने की कोशिश की है कि भारत हमारी जमीन पर अतिक्रमण कर रहा है जबकि ऐसा कुछ है ही नही. अब इस बिल को ढाई सौ से भी ज्यादा सदन के सदस्यों के वोट्स के साथ में पारित किया गया है जो अपने आप में एक बड़ा नम्बर है और अब कही न कही ये नेपाल का ये विधेयक भारत और नेपाल के बीच में खाई का काम करेगा.

भारत शुरू से ही कहता आ रहा है कि उसे चीन के प्रभाव में आना बंद कर देना चाहिए वरना तिब्बत जैसा हाल हो जाएगा. अब ऐसी सलाह को नेपाल तो अपना अपमान मानकर के भारत को ही बुरा कहने लग रहा है. ऐसे में नेपाल के साथ में फिर से सम्बन्ध दुरस्त कैसे किये जाए ये भी एक पहेली है.