योगी आदित्यनाथ ने दी नेपाल को चेतावनी, तो नेपाल के पीएम ने दिया ऐसा जवाब

955

भारत और नेपाल के रिश्तो में इन दिनों में काफी तल्खी नजर आयी है और इसके पीछे का कारण कही न कही उस कम्यूनिस्ट सरकार को माना जा रहा है जो भारत के प्रति नही बल्कि चीन की तरफ अधिक झुकाव दर्शा रही है और ये भारत की फोरेन पालिसी के लिए भी ठीक नही है. ऐसे में भारत ने हर तरफ से नेपाल को समझाया है कि पैसे के लालच में ऐसे देश की गोद में न बैठे जो उन पर ही कब्जा करने की फिराक में बैठा हुआ हो.

योगी ने कहा नेपाल तिब्बत का हाल याद करे, ओली ने कहा ये हमें बर्दाश्त नही
उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में नेपाल को चेतावनी देते हुए कहा था कि नेपाल और भारत के सम्बन्ध सदियों पुराने है लेकिन अभी जो नेपाल कर रहा है वो उसी के लिए ठीक नही है. नेपाल अगर अभी भी नही चेता तो उसे तिब्बत का उदाहरण याद कर लेना चाहिए. यहाँ पर योगी आदित्यनाथ नेपाल को चेता रहे थे कि जो हाल चीन ने तिब्बत में घुसकर उसका किया वो उसका भी हो सकता है.

बस इतना कहने की देर थी और वहाँ पर बैठे नेपाल के पीएम ओली नाराज हो गये. उन्होंने कहा कि नेपाल को लेकर के यूपी के मुख्यमंत्री का बयान निंदनीय है. अगर योगी जी डराने की कोशिश कर रहे है तो ये उचित नही है. ये नेपाल का अपमान समझा जा सकता है. योगी आदित्यनाथ एक सीएम के तौर पर ऐसी बाते कर रहे है जिनकी आलोचना होनी चहिये. हम यानी नेपाली ऐसी भाषा के लिए बिलकुल भी तैयार नही है.

नेपाल को जहाँ पर एक तरफ योगी जी ने कड़े शब्दों में समझाने की कोशिश की थी कि वो संभल जाए वरना भविष्य अँधेरे में है तो उलटा नेपाल भारत के ही खिलाफ इस तरह के बोल बोलने लगा है जो अपने आप में बताता है कि अब अंडरस्टैंडिंग को और ज्यादा बेहतर करने की जरूरत है.