आज भारत ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड, जो बाकियों के लिये सिर्फ सपना है

549

आज हिन्दुस्तान एक नए दौर से गुजर रहा है जो जाहिर तौर पर काफी ज्यादा तकलीफ से भा हुआ है. देश ने एक महामारी का मुकाबला किया है और जिस तरह से पिछले कुछ दिनों के अन्दर भारत नए मुकाम पर जा चुका है वो अपने आप में सराहनीय ही कहा जा सकता है क्योंकि एक एक मेडिकल प्रोफेशनल की मदद से हम इसे रोकने में कामयाब हुए है और अब तो हिंदुस्तान उन गिने चुने देशो में शामिल हो गया है जिन्होंने टेस्टिंग के मामले में रिकॉर्ड बना लिए है.

भारत में पार किया 50 लाख टेस्ट्स का आंकड़ा, अब तक कुछ ही देश कर पाए
भारत में शुरू में महज कुछ सैकड़े भर टेस्ट ही हो पा रहे थे और कभी तो 100 टेस्ट होने भी मुश्किल हो रहे थे लेकिन आज हिंदुस्तान ने 50 लाख टेस्ट्स करके एक रिकॉर्ड कायम कर लिया है. अब तक सिर्फ अमेरिका, रूस और इंग्लैंड ही ऐसे देश है जिन्होंने ये काम करके दिखाया है और भारत इनके बाद 50 लाख क्लब में शामिल हो गया है जिसने ये रिकॉर्ड कायम किया है और इसकी हर कोई और बड़े बड़े संगठन तारीफ़ कर रहे है.

अब कई लोग है जो पूछेंगे कि ऐसा हुआ कैसे? भारत की स्वास्थ्य व्यवस्था को तो अक्सर ही कोसा जाता रहा है कि यहाँ पर कोई काम ठीक से नही होता है तो दरअसल इसके पीछे कई फैक्टर काम करते है और इसमें सर्वोपरी है सरकार की इच्छा शक्ति. मोदी सरकार ने तेजी से न सिर्फ टेस्ट किट्स इम्पोर्ट किये बल्कि अपने उच्च संस्थानों को भी सब सुविधा दिलवाई ताकि वो अच्छे टेस्ट किट्स डेवलप कर सके और ऐसा कर भी लिया गया जिसकी वजाह से तेजी से टेस्ट्स हो पा रहे है. इसके अलावा प्राइवेट लेब्स को भी छूट दे दी गयी जो कि एक नियत रकम पर लोगो के टेस्ट कर रही है.

अब आज दुनिया के गिने चुने देश है जो ऐसा कर पाए है और इसका फायदा ये है कि आप जितने ज्यादा टेस्ट करेंगे उतनी अच्छे ट्रेसिंग कर सकेंगे और फिर उसे कण्ट्रोल बेहतर तरीके से किया जा सकेगा.