भारत ने चीन को सफलतापूर्वक दबाया, जिनपिंग ने लद्दाख पीछे हटायी अपनी आर्मी

164

भारत और चीन के बीच में लम्बे वक्त से एक तरह से तनातनी चल रही थी. लद्दाख में चीनी सैनिक घुस आये थे और बार बार दोनों तरफ के लोग आपस में भिड भी रहे थे जिसकी खबरे आने से भारतीय अच्छे खासे नाराज थे जिसके बाद में इंडियन आर्मी ने न सिर्फ ताकत दिखाकर के इन लोगो को खदेड़ना शुरू किया बल्कि राजनयिक और सैन्य स्तर पर भी बातचीत चली जिसके बाद में भारत चीन पर अपना दबाव बनाने में काफी हद तक कामयाब हो गया है ऐसा आप कह सकते है.

भारत के दबाव का असर, ढाई किलोमीटर पीछे हटे चीनी
अब ये आप मोदी सरकार की नीति और इंडियन आर्मी का जज्बा ही कह सकते है कि चीनी सेना को यहाँ पर टिकने नही दिया गया और बड़े ही आराम से इनको फिर से पीछे धकेल दिया गया है. चीनी सेना के लोग अब अपने पड़ाव से ढाई किलोमीटर पीछे हट गये है, कुल मिलाकर के कह सकते है कि वो धीरे धीरे अब अपने इलाके में लौट गये है जो कि एक अच्छा संकेत है. इनके जाने पर भारतीय सेना ने भी अपने कदम थोड़े पीछे किये है ताकि इलाके में शान्ति बनी रहे.

रिपोर्ट्स कहती है कि इसी हफ्ते में एक और बैठक होने जा रही है जो काफी हाई लेवल की है जिसमे ये मुद्दा पूरी तरह सुलझा लिया जाएगा और चीन फिर शायद दुबारा इस देश में आने की गलती ही न करे. ये अपने आप में एक अच्छी बात भी है कि मोदी सरकार और इंडियन आर्मी ने इतनी आसानी से इस मुद्दे को सुलझा लिया है.

इससे पहले डोकलाम में भी इसी तरह का मुद्दा हुआ था जिसमे भी इंडियन आर्मी के लोगो ने इनको ऐसे ही पीछे धकेल दिया था. जब कोई देश चारो तरफ से ऐसे देशो से घिरा होता है तो इस तरह की चीजे अक्सर होती रहती है और इन्हें कूटनीतिक तरीके से टेकल कर लिया जाता है.