सोनू सूद को शिवसेना ने बताया मोदी का एजेंट, फिर लगाया ये आरोप

135

मुंबई में फ़िलहाल सोनू सूद एक बड़ा नाम है और आजकल तो ओ गरीबो के मसीहा टाइप बन चुके है क्योंकि अब तक सोनू ने एक बड़ी संख्या में खूब सारे लोगो को अपने गाँवों में पहुंचाया है. किसी के लिए वो बसे बुक करवा रहे है, किसी के लिए ट्रेन तो किसी को सोनू सूद प्लेन से भी भिजवा रहे है. उनका मकसद सिर्फ प्रवासियों की मदद करना रहा है लेकिन लोगो की मदद करने वाले सोनू सूद भी इस बार सियासत के बड़े बुरे शिकार हो गये है क्योंकि शिवसेना को अपने काम उनके आगे छोटे नजर आने लगे है.

सोनू सूद प्रधानमंत्री मोदी से मिल सकते है और मुंबई के सेलेब्रिटी मेनेजर बन सकते है
सोनू सूद ने ये जो कुछ भी काम किया है उससे शिवसेना काफी नाराज नजर आ रही है और इसी कारण से उन पर शिवसेना के मुखपत्र सामना में संजय राउत ने जमकर के निशाना साधा है, जिसमे वो कहते है कि जब लॉक डाउन में किसी को आने जाने की अनुमति नही है तो फिर उन्हें बिना किसी राजनीतिक दल की मदद से इतनी बसे कैसे मिल जा रही है? लॉकडाउन में कोई नया महात्मा सूद आ गया है.

जब राज्य सरकारे प्रवासी मजदूरों को कही जाने की अनुमति ही नही दे रही है तो ये कहाँ जा रहे है? इसके बाद राउत ने कहा कि सोनू सूद जल्द ही प्रधानमंत्री मोदी से मिल सकते है और मुंबई के सेलेब्रिटी मेनेजर बन सकते है. सोनू सूद एक अभिनेता है और वो पैसे के लिए कुछ भी कर सकते है. अभिनय करना ही उनका पेशा है. सोनू सूद को एक तरह से राउत ने बीजेपी के साथ में जोड़ दिया और बातो ही बातो में वो उसे उनका एजेंट बताने लगे है.

हालांकि सोनू पहले ही ये साफ़ कर चुके है कि उनका किसी भी राजनीति से कोई भी लेना देना ही नही है और वो इन चीजो से कोई मतलब नही रखते है. इतना सब बोलने के बाद भी शिवसेना उन पर ऐसे आरोप लगाये जा रही है.