लॉकडाउन से बेहाल किसानो को मोदी सरकार ने दिया अब तक का सबसे बड़ा तोहफा

142

जब हम लोग बात करते है देश के अलग अलग तबको की तो जाहिर तौर पर सब लोग सारे के सारे तबके इस लॉक दो प्रभावित हुए है और इस महामारी का प्रभाव तो बाजार पर जनवरी के अंत से ही शुरू हो गया था. अब जब धीरे धीरे सब चीजे सामान्य हो रही है तो बिजनेस दूबारा डिमांड बना लेंगे, मुनाफ़ा कमा लेंगे, जिनकी नौकरी चली गयी उनको नयी मिल जायेगी, मजदूर को मिल में काम मिल जाएगा लेकिन किसानो का क्या? उनके लिये सरकार की तरफ से बहुत ही बड़ी पहल की गयी है.

फसलो का न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी एमएसपी बढाया गया, किसानो के मुनाफे में होगा इजाफा
हाल ही की केबिनेट मीटिंग में सरकार ने तय किया है कि किसानो को उनका हक़ मिलना चाहिए और इसी सोच के साथ में मोदी सरकार ने कई फसलो पर एमएसपी 53 रूपये से लेकर 300 रूपये तक बढ़ा दिया है जो अपने आप में तारीफ़ के काबिल है. अब बात के बढ़ोतरी कितनी हुई है तो धान में 53 रुपये की, हाइब्रिड ज्वार में 70 रूपये की, तुअर में 200 रूपये की, मूंग में 146 रूपये की और उड़द में 300 रूपये तक की बढ़ोतरी की गयी है जिससे किसानो को उनकी फसल का ज्यादा दाम मिल सकेगा.

इसके बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके इस बारे में न सिर्फ जानकारी दी बल्कि साथ ही साथ में ये भी बताया कि वो देश के किसानो को समृद्ध बनाना चाह रहे है. इसके आलावा भी इन दिनों में मोदी सरकार ने कई बड़े काम किये है जैसे एमएसएमई को समृद्ध बनाने का प्रयास किया जा रहा है. उनको 20 हजार करोड़ रूपये तक की लोन देने की स्कीम मंजूर हो गयी है. इसके अलावा जो लोग रेहड़ी वाले लोग है उनको भी 10 हजार रूपये तक लोन दिया जायेगा. इससे कही न कही निचले तबके को ऊपर उठने में काफी ज्यादा सहायता जाहिर तौर पर मिलने वाली है.

अब सवाल ये उठता है कि किसानो तक या फिर जो निचला तबका है उन तक सिस्टम इन फायदों को किस हद तक पहुंचा पाता है क्योंकि देश काफी बड़ा है और हर चीज संभाल पाना बड़ा मुश्किल है.