लद्दाख में टेंशन बढ़ी, भारत ने अब तैनात किये वायुसेना के हेलीकॉप्टर

1908

फिलहाल के समय में भारत वैसे भी काफी ज्यादा परेशान है क्योंकि चीन से सारी दुनिया की तरह भारत में भी महामारी आयी है जिससे लॉक डाउन जैसी स्थिति बनी हुई है. अब ऐसे वक्त में जब ऐसे देश को शर्मिंदा होना चाहिए वो इस वक्त में दूसरो की सीमा पर अतिक्रमण करने का प्रयास कर रहा है और ऐसा हम लद्दाख में पिछले लभग एक हफ्ते से बड़े लेवल पर देख रहे है. चीन ने भारत की सीमा के अन्दर की ओर आकर अपने हजारो की संख्या में जवान तैनात किये है, उनके बड़े बड़े वाहन भी वहाँ आ रहे है और तो और चीन ने आस पास के इलाको में विमान भी तैनात किये.

जवाबी कार्यवाही में भारत ने भी बढ़ाई सैनिको की संख्या, चिनूक हेलीकॉप्टर भी तैनात
अब चीन इतनी सब बदमाशी करेगा और भारत चुप बैठा रहेगा ऐसा तो होगा नही. ऐसे में भारत ने चीन के खिलाफ बॉर्डर पर कड़ी कार्यवाही करते हुए अपने भारी संख्या में जवान लद्दाख बॉर्डर पर तैनात कर दिए है. काफी वाहन है जो भी वहाँ पर डिप्लॉय कर दिए गये है और तो और अब एयरफ़ोर्स भी एक्शन के मूड में आ गयी है.

इंडियन एयरफ़ोर्स के चिनूक हेलीकॉप्टर और कई यूएवी भी लद्दाख बॉर्डर पर तैनात कर दिए गये है जिससे चीन की हालत खस्ता होती नजर आ रही है क्योंकि उसे लगा था कि भारत ताइवान या वियतनाम की तरह घबरा जाएगा. शायद उसे अंदाजा न था कि अब पिछले कुछ वक्त में भारत की सैन्य शक्ति किस हद तक बढ़ चुकी है और यही चीज है जो अब चीन को बहुत ही भारी नुकसान देने जा रही है.

अब दोनों ही तरफ के बॉर्डर पर न सिर्फ आर्मी बल्कि एयरफ़ोर्स भी डटकर के खड़ी है. ऐसा क्यों हो रहा हिया और चीन की इसके पीछे की मंशा क्या है इस पर अभी कोई स्पष्ट जवाब नही है लेकिन एक्सपर्ट्स कहते है कि दुनिया का महामारी से ध्यान भटकाने के लिए चीन जंग छेड़ देना चाह रहा है.