योगी आदित्यनाथ पर बौखलाये राज ठाकरे, दे दिया ऐसा बेतुका बयान

396

जब से लॉक डाउन के कारण मजदूरों का पलायन शुरू हुआ है उसके बाद से ही लगातार इनको लेकर के राजनीति भी शुरू हो गयी है आर बोल बच्चन के मामले में तो ये अपने चरम पर जा पहुंची है. मामला क्या है? चलिए हम आपको बताते है. दरअसल योगी जी इन दिनों महाराष्ट्र की सरकार से खफा है क्योंकि उन्होंने लॉक डाउन में यूपी के मजदूरो का ख्याल नही रखा और ऐलान किया कि अब अगर कोई भी राज्य यूपी के मजदूरों को ले जाना चाहे तो यूपी की सरकार से परमिशन लेनी पड़ेगी.

राज ठाकरे ने किया पलटवार, प्रवासी आने से पहले महाराष्ट्र की सरकार से इजाजत ले
जहाँ पर क्षेत्रवाद की बात आए आर वहाँ पर राज ठाकरे मैटर में न कूड़े ऐसा तो हो ही नही सकता तो योगी आदित्यनाथ के इस फैसले पर पलटवार करते हुए राज ठाकरे ने कहा कि सीएम योगी को अब इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि प्रवासी जो महाराष्ट्र में आ रहे है उनको यहाँ की सरकार से परमिशन लेनी चाहिए. राज ठाकरे यही पर ही नही रुके बल्कि उन्होंने और भी ज्यादा बड़ा बयान दे दिया.

राज ने कह दिया कि जो भी प्रवासी महाराष्ट्र में आ रहे है उनका पुलिस में रिकॉर्ड होना चाहिए और उसमे उनकी फोटो भी होनी चाहिए. महाराष्ट्र की सरकार इन बातो को गंभीरता के साथ में ले और इस पर विचार करे. राज ठाकरे के इस तरह के बयान से कही न कही उन लोगो के अन्दर डर पैदा होगा जो महाराष्ट्र के बड़े शहरो जैसे मुंबई पुणे आदि में काम करने के लिए जाते है.

इस बात को भी नकारा नही जा सकता है कि यूपी बिहार के कामगारों की वजह से ही आज की तारीख में मुंबई इतनी उंचाई पर पहुंची है और इसके बावजूद राज ठाकरे इस तरह के बयान दे रहे है तो फिर ये अपने आप में काफी ज्यादा विवादास्पद ही का जा सकता है.