केजरीवाल ने इस हॉस्पिटल को भेजा नोटिस, कहा तुम्हारा लाइसेंस ही रद्द..

136

देश के हालातो पर सारी सरकारे अपनी अपनी तरह से प्रयास कर रही है. केंद्र से तो जो बन पड़ता था वो उन्होंने कर ही दिया लेकिन अब बात राज्य सरकारों पर आन पड़ी है और राज्य की सरकारे हेल्थ इन्फ्रा को बढाने में लगी हुई है. सरकारी अस्पतालों को तो तैयार किया ही गया है साथ ही साथ में निजी अस्पतालों को भी रेडी किया जा रहा है, ऊन्हे निर्देश दिये जा रहे है और दबाव बनाया जा रहा है. दिल्ली में भी कुछ ऐसा ही माहौल है लेकिन कुछ अस्पताल जिम्मेदारी से भागते नजर आ रहे है.

अस्पताल में मिला पोजेटिव तो इलाज करने से किया इनकार, दिल्ली सरकार ने भेज दिया नोटिस
अब हाल ही में एक निजी अस्पताल की दिल्ली में काफी बड़ी लापरवाही देखने में आयी है. रिपोर्ट के अनुसार राजधानी के एक निजी अस्पताल में एक व्यक्ति भर्ती था और उसका इलाज चल रहा था तभी उसको सांस लेने में दिक्कत होने लगी तो उसका करोना टेस्ट किया गया जिसमे वो संक्रमित पाया गया. इस पर अस्पताल वालो ने उसका इलाज करने से ही इनकार कर दिया. इतनी गैर जिम्मेदाराना हरकत से दिल्ली सरकार भी नाराज है.

इस पर अरविन्द केजरीवाल ने खुद बताया कि हमने उस अस्पताल को नोटिस भेज दिया है और पूछा है कि अब आप बताये कि आप लोगो का लाइसेंस ही रद्द क्यों न कर दिया जाए? आपको बता दे दिल्ली में केसेज बढ़ने के साथ ही केजरीवाल सरकार ने अब निजी अस्पतालों पर कुछ कुछ कण्ट्रोल लेना शुरू कर दिया है. हाल ही में सरकार के एक आर्डर में कहा गया है कि निजी अस्पताल जो कि सौ से अधिक संख्या में चिन्हित किये गये है वो अपने लगभग 20 प्रतिशत बेड इनके इलाज के लिए रिजर्व करके रखे क्योंकि इनकी जरूरत पड़ सकती है.

ऐसे में अब निजी अस्पतालों पर दबाव तो बन ही गया है तो थोडा सा हेल्थ सिस्टम पर दबाव कम रहेगा. बाकी लोगो से सोशल डिस्टेंस रखने के लिए कहा ही जा रहा है.