कांग्रेस को तगड़ा झटका, सोनिया गांधी के इस खास आदमी की सम्पति जब्त करने के आदेश

1965

इन दिनों कांग्रेस की ग्रह दशा कुछ ठीक चल नही रही है. आए दिन एक के बाद एक ऐसी मुसीबते आती जा रही है जो कही न कही उनकी हालत को खस्ता से भी खस्ता किये जा रही है. पहले तो कई राज्यो से कांग्रेस बाहर हो गयी, फिर पार्टी के पास केंद्र की सत्ता और पहले जितनी सम्पति तक नही बची और अब तो हालात इस कदर हो गयी है कि कई नेताओं के काले चिट्ठे सामने आ रहे है. कई जेलों में जा रहे है आर कई सारे अपनी सम्पति गँवा रहे है जिनमे एक और नाम जुड़ गया है.

मनी लांड्रिंग केस में कार्यवाही, कई लोगो में मोतीलाल वोरा का भी नाम
ये मामला कोई अभी का नही बल्कि दशको से चला आ रहा है जो एजेएल से जुड़ा है जिस पर गांधी परिवार का नियंत्रण है और उसके चेयरमेन मोतीलाल वोरा है जो कि सोनिया गांधी के भी काफी करीबी माने जाते है. इस मामले में छानबीन करने पर ईडी ने काफी गड़बड़ झाला पाया और देख गया कि किस तरह से सत्ता का दुरूपयोग करते हुए काफी बड़ा गबन किया गया है.

इसी आधार पर मुंबई में एक 9 मंजिला इमारत जिसके दो बेसमेंट भी है जिसकी कीमत 16 करोड़ रूपये से अधिक है से कुर्क किया है. सम्पति अटैच कर ली गयी है और अभी भी ये कोई बात ख़त्म नही हुई है बल्कि अगर मोतीलाल वोरा या फिर उनसे जुड़े लोगो के नाम और बड़े स्तर पर खुलकर के सामने आते है और अपराध साबित हो जाते है तो उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है जो अपने आप में एक बहुत ही बड़ा ड्रा बेक कांग्रेस पार्टी के लिए हो सकता है.

चिदम्बरम पर भी इसी तरह से जांचे चल रही है वो जेल की हवा खाकर के आ गये है और गांधी परिवार के लोग भी बेल पर बेल ले रहे है और हालत खराब हुई जा रही है. अब मोतीलाल वोरा का नाम भी इनमे जुड़ गया है.