अमेरिका के बाद ये देश भी मांग रहे है भारत से मदद, मोदी ने जवाब में कही दिल छू लेने वाली बात

954

इन दिनों सारी की सारी दुनिया करोना नाम की बीमारी से जूझ रही है और जाहिर तौर पर ये काफी चिंता से भरा हुआ समय है जो कि लोगो के लिए एक से बढकर के एक दिक्कत लेकर के आ रहा है. अमेरिका और ब्रिटेन जैसी महाशक्तियां तक इसके सामने बेबस हो गयी है और अब भारत से एक दवाई के लिए मदद मांग रही है. आपको मालूम हो तो डोनाल्ड ट्रम्प ने पहले भारत से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन भेजने की रिक्वेस्ट की थी जिस पर पीएम मोदी ने तुरंत रियेक्ट करते हुए उन्हें वो दवा भिजवा भी दी.

बाकी कई देशो ने भी दवाई की मांग की, मोदी ने सबको मदद का आश्वासन दिया अमेरिका के बाद ब्राजील, इजरायल समेत ऐसे दर्जनों देश है जो भारत से इसी दवाई के लिए मांग कर रहे है और कोशिश कर रहे है कि उन्हें भी ये मिल जाए. सूत्रों की माने तो पीएम ने इन सबको मदद का आश्वासन दिया और कहा कि वह इस अवसर को भारत और दुनिया के लिए हाथ से निकलने नहीं देना चाहते हैं. यह एक बेहद ख़ास पल है जब भारत लोगों की जिंदगियां बचा सकता है और हम इसे हाथ से जाने नहीं देंगे.

भारत में इस दवाई का उत्पादन करने वाली कम्पनी के सीईओ पंकज पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमें ये कहकर के प्रेरित किया कि ये भारत के लिए दुनिया भर में अपनी एक अलग पहचान बना लेने का अवसर है. वो मदद का आश्वासन भी दे चुके है. पंकज पटेल कहते है कि उनकी कम्पनी ने इस माह कुल 20 करोड़ टेबलेट्स का उत्पादन किया है आगे भी उनका ऐसा ही बड़ा लक्ष्य है ताकि वो इस संसार को बचाने में अपनी तरफ से जितना योगदान दे सके वो दे रहे है.

आज पूरी दुनिया इस मुसीबत के दौर में भारत की तरफ उम्मीद के साथ में देख रही है और भारत के प्रधानमंत्री ने भी उनकी उम्मीद को जाया नही होने दिया है जो कि वसुधैव कुटुम्बकम के स्वप्न को साकार करने जैसा है.