मोदी सरकार के सामने गिडगिडाने पर मजबूर हुए देश के कई व्यापारी, वजह जानकर चीन पर गुस्सा आयेगा

1036

पूरा भारत हो या फिर सारा का सारा विश्व हो हर कोई इन दिनों एक बड़ी ही समस्या से गुजर रहा है और कोरोना का नाम तो आपने जाहिर तौर पर सुन ही लिया होगा क्योंकि जिस तरह से इस बीमारी ने पिछले समय में चीन से निकलकर के दुनिया भर में पाँव पसारे है वो सब के लिए चिंता का विषय बना हुआ है. अब इसका जिम्मेदार कहे जाना वाला चीन इसे लेकर के ग्लानी करना तो दूर की बात है वो इससे मुनाफ़ा कमाने की कोशिश में लगा हुआ है जो कि उसकी असलियत को दर्शाता है.

मोदी सरकार के दरबार पहुंचे निर्यात करने वाले व्यापारी, कुछ करो वरना चीन सारा बाजार हड़प लेगा
जब से देश में कोरोना का कहर बरसना शुरू हुआ है उसके बाद से ही लगातार बाजार बंद हो रहे है और अब आज की डेट में देखे तो भारत की हर बड़ी फैक्ट्री और बड़ी कम्पनी बंद पड़ी है जिससे निर्यात शून्य तक चला गया है. ऐसे वक्त में अब चीन वो सारा माल दुनिया को सप्लाई करके निर्यात का सारा बाजार हड़पने की कोशिश में लगा हुआ है क्योंकि उसने तो कोरोना पर काबू पा ही लिया है.

ऐसे में निर्यातको ने मोदी सरकार को पत्र लिखकर के मांग की है कि कम से कम कुछ एक इकाइयों को जो जरूरी है वो तो चलाने की अनुमति दी जाये और कार्मिको को आने दिया जाए. अगर ऐसा समय रहते नही हुआ तो चीन सारा का सारा बाजार हड़प कर जाएगा और भारत के पास में फिर निर्यात करने को कोई जगह ही नही बचेगी. ऐसे में सरकार के सामने भी भारी चुनौती खड़ी हो गयी है कि इस कंडीशन को हेंडल कैसे करे?

बात काफी बड़ी है क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था, इज्जत, लोगो की जान और सरकार की मशीनरी सबपर एक साथ आफत आन पड़ी है और कोई भी समझ नही पा रहा है कि इससे निपटा जाए तो कैसे निपटा जाये? लोग अभी भी इस खतरे से बेख़ौफ़ होकर के बाहर घुमते नजर आ जायेंगे.