आज प्रधानमंत्री मोदी ने खुद माफी मांगी है

777

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कभी भी अगर कुछ कार्य करते है तो वो अपने आप मे सर्वजन हिताय से भरा होता है। वो कोशिश तो यही ही रखते है कि सबको साथ लेकर के चले लेकिन पिछले कुछ दिनों में इस करोना नाम की बीमारी के चलते जो कुछ भी हुआ है उससे दुनिया भर की सरकारे बेबस सी हो गयी है। भारत मे भी 21 दिन के लॉक डाउन की घोषणा की गई थी जिसके बाद पहली बार पीएम मोदी ने एक बार फिर से जनता से बात की और उन्हें एहसास करवाया की वो उनकी तकलीफ समझ रहे है।

मजदूरों का दर्द नही है छुपा, कड़े कदम उठाने के लिये मांफी माफी
प्रधानमंत्री मोदी ने आज रेडियो और टीवी के माध्यम से देश को संबोधित किया और उसी दौरान उन्होंने ये भी कहा कि ये जो भी हुआ वो करना पड़ा। कुछ कदम है जो बड़े सख्त उठाये गए है और इस कारण से जो मजदूर वर्ग को पीड़ा हो रही है उससे वो पूरी तरह से अवगत है और वो उसके लिए माफी भी मांगते है।

प्रधानमंत्री ने इस बात को लेकर के आश्वस्त भी किया कि जो भी हो सकेगा वो कर रहे है और नागरिकों की जान को बचाने के लिए सरकार कुछ भी करेगी। बस मोदी के इसी भरोसे के सहारे आज देश के करोड़ो लोग घर के अंदर खुदको बन्द करके बैठे हुए है । शायद इसी कारण से भारत आज बाकी देशों की तुलना में थोड़ी बेहतर स्थिति में तो है लेकिन अगर अव्यवस्था जो पैदा करने की कोशिशें हो रही है वो कामयाब हुई तो ये सब खत्म होने में भी कोई ज़्यादा समय नही लगेगा।

आपको बता दे अभी सरकार पलायन करने वालो के लिए हाईवे किनारे पर ही टेंट लगाकर के वहां पर भोजन आदि करवाने की व्यवस्था करवा रही है ताकि अगर उनमे से कोई संक्रमित हो तो कही ये संक्रमण गांव और देहातो तक न पहुच जाए । अगर ऐसा हुआ तो फिर ये किसी भी सरकार के बस की बात तक नही रहेगी।