करौना से लड़ने के लिये योगी आदित्यनाथ ने किया बड़ा ऐलान

1158

फ़िलहाल देश में स्थिति विकट है और ऐसे समय में कही न कही ये चीज जरूरी सी हो चली है कि देश की सरकारे इसके खिलाफ लड़ाई लड़े और साथ ही साथ में आम नागरिको का भी ख्याल रखा जाए ताकि कही वो अन्दर ही अन्दर दब न जाये. ये चीज कही न कही जरूरी भी है क्योंकि ऐसा बहुत ही कम देखने में आता है कि सरकारे इतनी संवेदनशीलता के साथ में काम करे और योगी आदित्यनाथ की गरीबो के लिए संवेदनशीलता किसी से भी छुपी हुई तो बिलकुल भी नही है.

यूपी में मजदूरों की जरूरते पूरी करने लिए उनके खाते में ट्रांसफर होंगे सीधे हजार रूपये
फ़िलहाल यूपी में पूरी तरह से लॉकडाउन नही है लेकिन आंशिक लॉकडाउन तो लग ही चुका है. बाहर सडको पर न के बराबर लोग है और कोई भी काम धंधा नही चल रहा है. ऐसे में बाकी लोग तो जीवनयापन कर भी लेंगे लेकिन जो दिहाड़ी मजदूर है उनका क्या? वो तो जो दिन में अगर 200 रूपये कमाते है उसी से शाम का भोजन जुटाते है. अब उन्हें करौना की वजह से मजदूरी मिलनी ही बंद हो गयी है.

ऐसे में योगी सरकार ने बड़ा ही ख़ास कदम उठाते हुए सभी पंजीकृत मजदूरों के बैंक खाते में अभी के लिए 1000 रूपये जमा करवाने का निर्णय लिया है. ये निर्णय अपने आप में काफी सराहनीय माना जा सकता है और माना जा रहा है कि ये 15 लाख से भी ज्यादा लोगो को फायदा देने जा रहा है यानी इनसे कही न कही पांच सात दिन तक का गुजारा तो चल ही जायेगा उन लोगो का जो महज दिहाड़ी पर जीवन व्यतीत करते है.

तब तक कोशिश है कि इस बीमारी को काबू कर लिया जाए और अगर ऐसा नही हो पाए तो फिर और भी मदद लाजमी तौर पर की जायेगी ताकि जनता के बीच में भोजन और जरूरी चीजो को लेकर के कोई अफरा तफरी न होने लग जाए.