मोदी ने रखा ऐसा प्रस्ताव, तारीफ़ करते नही थक रहे श्रीलंका नेपाल और भूटान

241

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कही न कही विश्व में एक तरह से काफी बड़े और जाने माने नेता बन चुके है और इसी कारण से उनकी मिसाले भी दी जाती है. हर जगह पर वो एक ग्लोबल आइकॉन की तरह पेश किये जाते है. कही न कही मोदी की छवि ही ऐसी बन चुकी है और लोग उन्हें ज्यादा पसंद करते है और उनका काम भी तो आखिर उसी तरह का होता है. अभी हाल ही में कोरोना को लेकर के पीएम ने अपने ही देश में जिस तरह की सतकर्ता दिखाई और सब काबू में रखा वो ऐसा ही कुछ अब अपने पूरे क्षेत्र में चाहते है.

सार्क देशो के सामने मोदी ने रखा विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कोरोना रोकने पर जानकारी आदान प्रदान का प्रस्ताव, सभी करने लगे इस पहल की तारीफ़
दुनिया भर में बढ़ रहे करोना नाम के इस खतरे से भारत तो निपटने के लिए प्रयास कर ही रहा है लेकिन सरकार चाहती है कि पड़ोस के देशो में भी ये न फैले और इसके लिए भारत सरकार की तरफ पीएम मोदी ने सार्क देशो को ये प्रस्ताव दिया है कि विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये सभी देशो के नियुक्त लोगो के बीच में एक चर्चा हो जिसमे इससे कैसे निपटना है उस पर चर्चा हो?

उनके इस प्रस्ताव का अस पड़ोस के सभी देशो ने जमकर के स्वागत किया है. श्रीलंका के राष्ट्रपति ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने ऐसे दूभर समय में बहुत ही शानदार मुहीम की शुरुआत की है. भूटान के प्रधानमंत्री ने भी पीएम की तारीफ़ करते हुए कहा कि इसे ही लीडरशिप कहते है, मैं भी चर्चा के लिए आने को तैयार हूँ. वही नेपाल के प्रधानमंत्री ने भी यही कहा कि वो भी ऐसे वक्त में साथ आने को तैयार है.

पाकिस्तान को भी मजबूरी में ही सही लेकिन कहना पड़ा कि उनकी तरफ से भी चर्चा के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय से आयेंगे. मालदीव तो मोदी के इस प्रस्ताव से गद गद हो उठा है क्योंकि वहां ये चीज फैली तो छोटी सी आबादी को साफ़ करने में ज्यादा वक्त नही लगाएगी.