सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर बुरी तरह भडके दिग्विजय सिंह, कह दी इतनी बड़ी बात

183

ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से भारतीय जनता पार्टी में गये है उसके बाद से ही मध्य प्रदेश की राजनीति में एक तरह से तूफ़ान आ रखा है और ये कही न कही उनके लिए ही चिंता की बात भी बना हुआ है. ऐसा दरअसल इसलिए है क्योंकि कमलनाथ की सरकार एक तरह से गिरने के मुहाने पर पर खड़ी है और बीजेपी सिंधिया के बीच में नजदीकियां बहुत ही मजबूत होती जा रही है. ऐसे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुछ न बोले ऐसा तो हो नही सकता है और दिग्गी राजा इस पर बोले नही बल्कि जमकर के बरसे है.

महाराज आपने गांधी परिवार और कांग्रेस को धोखा दिया, वो भी राज्यसभा सीट के लिए
दिग्विजय सिंह ने अपने मन की बातो को बार निकालते हुए कहा ‘मैंने ऐसी उम्मीद तो कभी भी नही की थी महाराज (माफ़ करना मैं खुद भी सामन्ती समाज से आता हूँ इसलिए उनको ज्योतिरादित्य नही बुलाता) कि आप कांग्रेस पार्टी और गांधी परिवार को धोखा दे देंगे. वो भी किसके लिये? मोदी और शाह के नीचे जाकर राज्यसभा और केबिनेट के लिए? मुझे बड़ा ही दुःख हो रहा है क्योंकि मुझे ऐसा होने की उम्मीद नही थी.’

इसके बाद में दिग्विजय सिंह ने सिंधिया को सत्ता का भूखा ही बता दिया और कहा कि कुछ लोगो के लिए विचारधारा और विश्वसनीयता की जगह सत्ता की भूख ज्यादा जरूरी है. अब दिग्विजय काफी ज्यादा बोल रहे है लेकिन हकीकत यही है कि सिंधिया ने दिग्विजय सिंह के कारण ही कांग्रेस को छोड़ा है.

पहले तो कमलनाथ के कारण सिंधिया मुख्यमंत्री नही बन सके और इसके बाद दिग्विजय ने उनके प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा पद का उम्मीदवार बनने में अडंगा लगा दिया जिससे उनका राजनीतिक करियर खत्म होता जा रहा था और सिंधिया को धीरे धीरे किनारे ही कर दिया गया जिसके बाद मजबूरी में या फिर जज्बातों में लेकिन सिंधिया ने ये फैसला ले ही लिया. आज वो उस पार्टी में है जो देश की सबसे बड़ी और सबसे ताकतवर पार्टी है.