ज्योतिरादित्य के कांग्रेस छोड़ने के बाद राहुल का बड़ा बयान, कहा ‘सिंधिया के लिये मेरे घर..’

1291

इन दिनों में हम सभी लोग एक चीज तो देख ही रहे है कि जिस तरह की स्थिति मध्य प्रदेश में बनी है उसके बाद पूरा का पूरा राजनीतिक गणित ही पलट गया है. सिंधिया ने अपने 19 से अधिक या लगभग इतने ही विधायको के साथ में कांग्रेस पार्टी छोड़ने और विधानसभा से इस्तीफा देने की भी घोषणा की और इसके बाद वो अब बीजेपी में शामिल हो चुके है. पार्टी उन्हें अपनी तरफ से राज्यसभा में भेजने का ऐलान भी कर चुकी है और कांग्रेस शॉक में है. काफी वक्त के इन्तजार के बाद राहुल ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है.

सिंधिया के लिए मेरे घर के दरवाजे हमेशा खुले रहेंगे
राहुल गांधी ज्योतिरादित्य के पार्टी छोड़ने के लगभग 24 से 36 घंटो बाद पहली बार बोले है जिसमे उन्होंने दोनों तरफ से बेलेंस बनाते हुए कहा ‘वह कांग्रेस में एकमात्र ऐसे शख्स है जो कभी भी मेरे घर आ सकते है, उनके लिए मेरे घर के दरवाजे हमेशा खुले रहेंगे.’ लोगो ने भी इस पर मजे लेते हुए ये कह दिया कि वो शख्स है नही बल्कि थे क्योंकि अब तो वो भाजपा के हो चुके है और अब सिंधिया को मनाने की सारी कोशिशे बेकार है.

वही दूसरी तरफ सिंधिया खुद कहते है कि अब की कांग्रेस और पहले की कांग्रेस में बहुत बदलाव आ चुका है. अब ये पहले जैसी नही रही और इस संगठन में रहकर के जनसेवा नही कर सकते इसलिए मैंने भाजपा को ज्वाइन किया है. हालांकि वो कांग्रेस में रहते हुए राहुल के सबसे करीबी लोगो में से एक माने जाते थे लेकिन इसके बावजूद  जिस तरह से वो अचानक से चले गये है उससे रागा की गुडविल पर भी प्रश्न चिन्ह जाहिर तौर पर लगेगा ही लगेगा.

राहुल के फ़िलहाल भी इतने सॉफ्ट होने के पीछे का कारण ये है कि अभी उन्हें मध्य प्रदेश में सरकार बचानी है और किसी तरह से वो सिंधिया को वापिस ला सकते है तो उसके लिए लाने की कोशिश जरुर करेंगे मगर ये नही हो पाया फिर तो ज़ुबानी जंग पक्ष विपक्ष की तरह ही होनी है.