ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद कमलनाथ ने किया बड़ा दावा, दिया ये बयान

560

मध्य प्रदेश में राजनीतिक हालात किसी से भी छुपे हुए नही है. जिस तरह से अचानक ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पाला बदला है और सभी को चौंका दिया है उसके बाद में प्रदेश में बीजेपी की स्थिति अच्छी खासी मजबूत हुई है और इसी कारण से कई लोग ऐसे भी है जो कही न कही अब इस उम्मीद में बैठ गये है कि जल्द ही एमपी में बीजेपी की सरकार बनेगी और शिवराज एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनने जा रहे है. अब भला उम्मीद करने में तो बुराई ही क्या है?

सिंधिया के जाने से कोई फर्क नही पड़ेगा, हमारे पास अभी भी बहुमत
इतना सब होने के बाद भी कमलनाथ अपने तरीके से काफी ज्यादा निश्चिन्त नजर आ रहे है मानो सरकार गिरने का उन्हें कोई अंदाजा ही नही है. कमलनाथ ने कहा कि चिंता की कोई बात ही नही है अभी भी हमारे पास में बहुमत है और हमारे विधायको को कैद कर लिया गया है. सभी बागी विधायक हमारे संपर्क में है. कमलनाथ ने ये तक कह दिया कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने से हमें कोई भी फर्क नही पड़ेगा. कमलनाथ के अलावा उनके विधायक अर्जुन सिंह ने भी यही कहा है कि हमारी सरकार बनी रहेगी.

अब दावे चाहे कुछ भी हो लेकिन हकीकत तो अलग ही है. सिंधिया और उनके दर्जनों विधायक विधानसभा से इस्तीफा दे चुके है. कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता तो छोड़ ही दी और तो और कमलनाथ तो बस हाथ मलते ही रह गये है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या वाकई में कमलनाथ ऐसा कुछ कर सकते है? हालातो को देखकर के तो ऐसा किसी भी हालत में नही देखा जा रहा है.

हालांकि सभी स्थितियां फ़िलहाल बीजेपी के संपर्क में है लेकिन फिर भी एहतियात के तौर पर सभी विधायको को एक साथ एक फाइव स्टार होटल जो एनसीआर में स्थित है वहां शिफ्ट कर दिया गया है. ऐसे में काफी कुछ है जो बदल सकता है और ये बदलाव अपने आप में बीजेपी के लिए गेम चेंजर साबित होने वाला है.