ज्योतिरादित्य ने दिया कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा, अब आगे होगा ये सब

837

पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश की राजनीति में बहुत ही ज्यादा उथल पुथल मची हुई थी और जिस तरह से दोनों ही पार्टीया एक दुसरे के सामने नेक टू नेक फाइट में लगी हुई थी वो अपने आप में अलग ही किस्म का माहौल बना रहा था. इसी बीच अमित शाह ने मध्य प्रदेश में एंट्री लेकर ऑपरेशन अंजाम शुरू किया और देखते ही देखते उन्होंने सिंधिया को अपने पाले में लेने की कोशिशे शुरू कर दी जिसे लेकर शुरू में संशय हो रहा था लेकिन अंत में वही हुआ जो वो चाह रहे थे.

सिंधिया ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, अब ढहेगी कमलनाथ की सत्ता और ज्योतिरादित्य बनेंगे बीजेपी से राज्यसभा सांसद
काफी ज्यादा मशक्कत के बाद मे बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपने पाले में कर ही लिया और इसके बाद वो कांग्रेस की पानी प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे चुके है. हालाँकि केसी वेणुगोपाल ने इस पर तुरंत रियेक्ट करते हुए कहा कि उन्होंने इस्तीफा नही दिया है बल्कि हमने ही सिंधिया को बाहर निकाला है. इसके बाद सिंधिया शाह के साथ नजर आये और कहा जा रहा है दोनों ही एक गाड़ी से चलकर के गये है.

अब आगे बहुत ही बड़ा परिवर्तन होने वाला है क्योंकि सिंधिया अपने विधायको की मदद से कांग्रेस की सरकार के नीचे से हाथ खींच लेंगे और कमलनाथ की सत्ता ढह जायेगी. अब इसके बाद बीजेपी सत्ता में आयेगी या फिर से चुनाव होंगे ये तो वक्त ही बतायेगा मगर सिंधिया ने अपना भविष्य सुरक्षित कर लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ बीजेपी इन सबके बदले ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा में अपनी तरफ से सांसद चुनकर के भेजेगी और उन्हें केन्द्रीय मंत्री का दर्जा केंद्र सरकार में दिया जाएगा.

अब कांग्रेस और खुद कमलनाथ इस पर क्या रिएक्शन देते है ये देखने वाली बात होगी क्योंकि जिस तरह से सिंधिया अचानक से पार्टी से निकले है उसके बाद में तो उनके लिए खुदको संभालना ही मुश्किल हो जाएगा. खुद अधीर रंजन चौधरी ने भी यही कहा है कि लग रहा है हमारा सरकार नही बन पायेगा.