पीएम मोदी ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग, कई मंत्रियो के साथ जनरल रावत भी मौजूद

745

आज शाम से ही प्रधानमंत्री दफ्तर में काफी गहमा गहमी थी क्योंकि कई शेड्यूल है जो इन दिनों काफी ज्यादा बदले जा रहे है और उसके पीछे का कारण है कोरोना वायरस. भारत में अभी तेजी से तो नही लेकिन धीरे धीरे तो ये पाँव पसार ही रहा है और ऐसे में लोगो को बचाने का और सुरक्षित रखने का जिम्मा कही न कही सरकार पर आ जाता है. मोदी सरकार शुरू से ही इस पर तत्पर रही है लेकिन लगता है अभी भी कमी रह रही है इसी कारण से 30 से ज्यादा पोजेटिव केस देश में आ चुके है.

पीएम ने ली हाई लेवल मीटिंग, कोरोना को रोकने के लिये सुझाव मांगे और हर स्तर पर तैयारी शुरू
प्रधानमंत्री मोदी ने जो ये मीटिंग ली इसमें सीडीएस जनरल रावत, स्वास्थ्य विभाग के सचिव, नागरिक उड्डयन विभाग के सचिव, औषधि विभाग के सचिव, विदेश मंत्री जय शंकर और स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन समेत कई बड़े लोग मौजूद थे जो सरकार का संचालन करते है. इनसे प्रधानमंत्री मोदी ने सूचना और पूरी जानकारी ली कि कोरोना को रोकने के लिए क्या कुछ किया जा रहा है? कैसे देश की लोगो की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा रहा है?

प्रधानमंत्री मोदी ने सभी लोगो से विदेश से आ रहे हर व्यक्ति की पूरी और अच्छी तरह से जांच करने, लोगो को समय पर दवाई उपलब्ध करवाने, अस्पताल मेंटेन रखने, साफ़ सफाई और हाईजीन को देश में बेहतर करने और लोगो तक सही इन्फोर्मेशन पहुंचने के लिए कहा है. ये सब करना बेहद ही जरूरी है क्योंकि जिस भी देश में ये चीज आउट ऑफ़ कण्ट्रोल हो गयी वहां पर तो बस भगवान् ही मालिक है, चीन का उदाहरण तो सारी दुनिया के सामने है.

हालांकि अभी भारत में कोई ज्यादा बड़े स्तर पर ये नही फैला है और अब तक 32 के करीब केसेज है जो पोजेटिव पाए गये है लेकिन अगर समय रहते लोगो ने और प्रशासन ने मिलकर के इसे कण्ट्रोल नही किया तो फिर ये बहुत ही बुरा साबित हो सकता है.