ममता बनर्जी को हराने के लिये नरेंद्र मोदी ने बड़ा फैसला ले लिया है

784

देश में चुनाव चलते ही रहते है और हर राज्य के चुनाव समय समय पर आते रहते है मगर अब अगला चुनाव जो जल्द आने वाला है वो भारतीय जनता पार्टी के लिये काफी ज्यादा महत्त्वपूर्ण भी है क्योंकि बंगाल में सिर्फ चुनाव नही बल्कि नाक का सवाल हो गया है. ममता बनर्जी जिस तरह से लगातार मोदी और शाह को चुनौती देती रही है उसके बाद में इतना तो साफ़ हो गया है कि बीजेपी अपनी पूरी ताकत बंगाल चुनाव में झोंक देने वाली है और जीतने का भी पूरा पूरा प्रयास करेगी.

पीएम मोदी ने खुद संभाली बंगाल चुनाव की कमान, अब तक निचले स्तर के नेता देख रहे थे सारा काम
बंगाल में चुनाव आने वाले है और उससे पहले अब पीएम मोदी ने खुद अपने हाथ में सब कुछ ले लिया है. अब तक मुख्यतः सारा काम कैलाश विजयवर्गीय और उनके साथ मुकुल रॉय देख रहे थे मगर अब बात पीएम के हाथ में है. उन्होंने सांसदों से भी मुलाक़ात की है और ख़ासतौर पर जो बंगाल के सांसद है उनसे मिलकर के पीएम मोदी मिलकर के उनके संसदीय क्षेत्र की सारी जानकारी ले रहे है और उसके अनुसार चुनावी रूपरेखा तैयार कर रहे है.

अब जल्द ही पीएम मोदी और शाह खुद बंगाल में रैलियाँ करने वाले है ताकि लोगो को एकजुट किया जा सके और कार्यकार्ताओ में ऊर्जा का संचार हो. इसे लेकर के बीजेपी के उच्च स्तरीय बैठके भी शुरू की है जिस पर सीधे सीधे तौर पर मोदी और शाह संज्ञान भी ले रहे है. इससे जाहिर हो जाता है कि आने वाले एक से दो महीने के अन्दर मोदी खुद बंगाल में रैलियाँ करने के लिए उतरने वाले है और ममता बनर्जी के लिए खतरे की घंटी बजेगी.

हाँ ये जरुर है कि बीजेपी के लिए टीएमसी का किला भेद पाना उतना भी ज्यादा आसान नही होने वाला है क्योंकि पिछले एक दशक में ममता बनर्जी ने अपनी जड़े काफी हद तक गहरी जमा ली है और इन्हें पार कर पाना उतना भी आसान काम नही होने वाला है, फिर भी कोशिश तो करनी ही होगी.