बड़ी खबर: कांग्रेस के 7 सांसदों को संसद से निलंबित किया गया

433

देश भर में फिहाल राजनीति किस ओर जा रही है ये बात किसी से भी छिपी हुई नही है और कही न कही इसका स्तर भी गिरा ही है जो कि चिंता की बात है. वैसे तो सदन में अक्सर ही आपस में बहस होती है और कई बार बुरे दिन भी देखे गये है जिसमे एक दुसरे के प्रति गलत व्यवहार करते हुए माननीय सांसद देखे गये है मगर हाल ही में जो हुआ है उसके चलते कांग्रेस के एक नही बल्कि सात सात सांसदों को अचानक से निलंबन का सामना करना पड़ा है.

लोकसभा स्पीकर पर फेंके थे कागज, पूरे बजट सत्र के लिये निलंबित हुए कांग्रेस के सात सांसद
सदन में अध्यक्षीय पीठ अपना कार्य कर रही थी तभी वहाँ पर कांग्रेस के कुछ सांसद आये और उन्होंने उन्हें बलपूर्वक उनसे कागज़ छीन लिए जो उन्हें अपने पक्ष में नही लगे और फिर उन्हें लोकसभा स्पीकर के ऊपर उछाल दिया. इस व्यवहार से स्पीकर ओम बिडला बहुत ही नाराज हुए और उन्होंने त्वरित एक्शन लेते हुए कांग्रेस के कुल सात सांसदों को लोकसभा से पूरे बजट सत्र के लिए निलंबित कर दिया है और उनके पास इतना पॉवर है कि वो चाहे तो उन्हें आगे भी निलंबित रख सकते है.

जो सांसद निलंबित हुए है उनके नाम गुरजीत सिंह ओजला, राजमोहन उन्नीथन, गौरव गोगोई, टी एन प्रतापन, डीएन कुरियनकोस, बेबी बेहनन और मणिक्कम टैगोर है. इन सभी के व्यवहार के चलते हुए इन सभी को निलंबित कर दिया गया है और कांग्रेस को भी चेतावनी दे दी गयी है कि वो इस तरह के व्यवहार से बाज आ जाए वरना ठीक नही होगा स्पीकर के इस फैसले के बाद में मीनाक्षी लेखी ने सदन में कहा कि जिन्हें निलंबित किया गया है वो सभी उठकर के बाहर चले जाए.

कही न कही इस तरह के व्यवहार से भारत में लोकतंत्र कमजोर हुआ है और छोटे क्लास के बच्चो की तरह व्यवहार कर रहे कांग्रेस सांसदों के कारण पूरे सदन को परेशानी से दो चार होना पड़ा. खैर जो भी है अभी तो इन्हें हटा ही दिया गया है.