दिल्ली में जो हुआ उसके पीछे कांग्रेस पार्टी? इस कांग्रेस नेता को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

546

दिल्ली में जो हुआ वो बहुत ही बुरा था और इससे बदतर स्थिति कम से कम इस दशक में राजधानी ने नही देखी है जब लोगो के घरो में लोग घुस रहे थे और जाने तक ले रहे थे और पुलिस पहुँच नही पायी. अब इतना कुछ हो जाए और उसमे राजनीतिक समर्थन छुपा न हो ऐसा संभव नही है और वाकई में ऐसा हुआ है. पहले तो आप के पार्षद ताहिर हुसैन पर आरोप लगे और अब एक कांग्रेस की ही पूर्व पार्षद जो महिला है वो शक के घेरे में आ गयी है.

कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत जहां गिफ्तार, दिल्ली में पिछले दिनों की मानी जा रही आरोपी
ताहिर हुसैन का नाम तो सबसे पहले सामने आ ही रखा था और अब एक अन्य नाम भी लोगो के बीच में आया है और वो नाम है इशरत जहां. इशरत और कोई नही बल्कि जगतपुरी इलाके से कांग्रेस नेता है और पार्टी से ही पूर्व नगर निगम पार्षद भी रह चुकी है. इशरत पर आरोप है कि जो भी तोड़फोड़ मची थी उसमे वो भी शामिल थी और जांच चल रही है.

इससे कही न कही कांग्रेस की छवि खराब होती है कि उनके जमीने स्तर के नेता इस तरह के काम कर रहे है और हाईकमान केवल बीजेपी को ही कोसने में व्यस्त है. हालांकि पुलिस का दावा है कि चाहे आरोपी किसी भी पार्टी से हो या कितना भी अमीर और बड़ा व्यक्ति क्यों न हो? उसे सजा दी जायेगी और बड़े ही अच्छे तरीके से दी जायेगी, कोर्ट और कचहरी लोगो को न्याय देंगे. हालांकि जिस तरह की स्थिति दिल्ली में बनी थी उसके बाद में सबूत जुटाने में मुश्किलें जरुर हो रही है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे एक अन्य बड़े आरोपी ताहिर हुसैन की गिरफ्तारी के लिए भी लगातार छापेमारी चल रही है और उम्मीद की जा सकती है कि जल्द से जल्द उसे पकड़ा जा सकेगा. हालांकि इसमें समय जरुर लग रहा है मगर क़ानून से बच पाना आसान भी नही है.