नरेंद्र मोदी ने बुलायी केबिनेट बैठक, लिये ये 3 बड़े फैसले

1495

इन दिनों देश में काफी कुछ है जो बदला है और कही न कही ये हफ्ता तो बड़ी ही कशमकश के बीच से गुजरा है इस बात से इनकार नही किया जा सकता है. जिस तरह से ट्रम्प की विजिट हुई और उन सभी के बीच देश की छवि खराब करने की कोशिश के चलते दिल्ली में जगह जगह पर तोड़ फोड़ हुई और ये काफी बुरा था. पीएम मोदी ने भी इस मामले में ब्रीफ में जानकारी ली और इसके बाद वो अपने आगे के काम की तरफ चले गये जो बेहद ही जरूरी था.

पीएम ने हाल ही में अपनी केबिनेट की मीटिंग बुलाई थी जिसमे कुछ एक बिल और फैसलों के ऊपर चर्चा होनी थी. चर्चा हुई थी और काफी हद तक निष्कर्ष निकलने के बाद में पीएम की केबिनेट ने कुल तीन फैसलों को मंजूरी दे दी है जिनका सीधा प्रभाव हम सभी लोगो पर एक तरह से पड़ने वाला है.

  1. नेशनल टेक्निकल टेक्सटाइल मिशन को मंजूरी दी गयी है. हम अब तक 1 लाख करोड़ रूपये से अधिक का टेक्सटाइल इम्पोर्ट करते है और इससे हमारी अपनी इंडस्ट्री कमजोर रह गयी है और इसी के उद्धार के लिए 1480 करोड़ रूपये खर्च किये जायेंगे.
  2. फ़ूड प्रोसेसिंग कारोबार को बढ़ावा देने के लिए योजना की शुरुआत की गयी है. भारत दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा फल और सब्जियों का उप्तादक होने के बावजूद ब्रांडेड मार्केट में उतना नही ठहरता है और हमारा खाध्य पदार्थ बर्बाद ज्यादा होता है. इस समस्या को ठीक करके भारत में फ़ूड प्रोसेसिंग को विश्व स्तरीय बनाने हेतु कदम उठाएंगे.
  3. केबिनेट ने सेरोगेसी रेगुलेशन बिल 2020 को भी मंजूरी दे दी है और इस वर्ष का सबसे बड़ा शुरूआती फैसला माना जा रहा है. इसके जरिये किसी भी इच्छुक महिला को किराए की कोख वाली माँ यानि सेरोगेट मदर बनने का अधिकार होगा. इसके जरिये कमर्शियल सेरोगेसी को रोकने के भी प्रयास होंगे. सरकार इस पर अपना नियंत्रण चाह रही है. अब इसे जल्द ही लोकसभा में पेश करके संसद की मंजूरी ली जायेगी.