केजरीवाल और अमित शाह एक टेबल पर आये नजर, लिया बड़ा फैसला

1715

इन दिनों देश की राजधानी नयी दिल्ली में हालात बिलकुल भी सामान्य नही है. एक तरफ ट्रम्प दिल्ली में दौरे पर है और उधर दूसरी तरफ कई लोग बस तोड़ फोड़ करने में लगे हुए है मानो उन्हें देश से और देश की इज्जत से कोई भी मतलब नही है. हर तरफ़ अफरा तफरी है और ऐसे में गृह मंत्रालय ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई है जो मीडिया कैमरो के सामने ही होते हुए नजर आयी. इसमें गृह मंत्री अमित शाह, एलजी और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी शामिल हुए जिसमे दिल्ली के हालत काबू करने पर चर्चा की गयी.

अमित शाह ने दिया सुरक्षा बलों की कमी न होने देने का भरोसा, केजरीवाल भी करेंगे लोगो से अपील
इस मीटिंग में दिल्ली के वर्तमान हालातो पर चर्चा हुई और इसके बाद में अमित शाह ने भी दिल्ली की सरकार और प्रशासन को भरोसा दिया है कि लॉ एंड आर्डर मेंटेन करने मेंसुरक्षा बलों की कोई कमी नही आने दी जायेगी. वही केजरीवाल ने भी कहा है कि जो भी लोग ये सब कर रहे है वो तुरंत छोड़े क्योंकि ऐसी हरकतों से किसी का भी भला नही होने वाला है. सभी दलों को इस पर मिलकर के काम करना है.

शाह द्वारा ये जो कुछ भी किया जा रहा है वो अपने आप में जरूरी भी है. इन पिछले कुछ घंटो में पुलिस द्वारा भी आक्रामक रवैया अपनाया गया है ताकि जो भी प्रदर्शन के जरिये आम लोगो को नुकसान पहुंचा रहे है उन सभी को कण्ट्रोल किया जा सके और आज सुबह से काफी हद तक परिस्थितियाँ काबू में आ गयी है. मगर अभी भी काम करने की जरूरत है ताकि राजधानी को दुबारा से सही पटरी पर लाया जा सके.

हालांकि इस बात की उम्मीद कम ही की जा रही थी कि केजरीवाल और शाह एक टेबल पर आयेंगे मगर दिल्ली में हालत जिस तरह की हो रही है ऐसे में सभी दलों को मिलकर के काम करना है और ये जरूरी भी है वरना बहुत ज्यादा नुकसान होगा.