भारत आ रहे डोनाल्ड ट्रम्प के बारे में शिवसेना ने कही ऐसी बात, जिससे नाराज हो सकता है अमेरिका

120

डोनाल्ड ट्रम्प भारत आने वाले है और ट्रम्प भारत के लिए काफी मायने रखते भी है इस बात में कोई शक नही है क्योंकि अमेरिका इन दिनों भारत के सबसे बड़े आर्थिक और सामरिक साझेदारो में से एक है और इस वजह से मोदी का एक नही बल्कि कई बार अमेरिका जाना होता है और अब इस बार ट्रम्प भी भारत आ रहे है और भारत में भी गुजरात जा रहे है जिसे लेकर के तैयारियां काफी जोरो पर चल रही है. ऐसी स्थिति में कही न कही देश के लिए भी गौरव की बात होती है जब कोई अतिथि आता है मगर शिवसेना को शायद ऐसा नही लगता.

ट्रम्प के लिए हो रही तैयारियों को शिवसेना ने कहा गुलामी मानसिकता
दरअसल डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका से गुजरात के शाहर अहमदाबाद आ रहे है और इसी के लिए अहमदाबाद को सजाया जा रहा है. जो चीजे खराब है उन्हें ठीक किया जा रहा है और जो चीजे ठीक तुरंत नही हो सकती है उन्हें कवर किया जा रहा है. ऐसे में एक दीवार भी बनी है ताकि झुग्गी को मैन रोड से अलग किया जा सके और ऐसा न लगे कि रोड पर ही झुग्गियां बनी हुई है.

इन सभी पर तंज कसते हुए शिवसेना की तरफ से लिखा गया है कि स्वतंत्रता से पहले भी ब्रिटेन के राजा और रानी अपने गुलाम देशो में जाते थे.ट्रम्प की यात्रा के लिए भी उसी तरह की तैयारियां करदाताओ के पैसे से की जा रही है. यह भारतीयो की मानसिक गुलामी का प्रतीक है. शिवसेना ने तैयारियों पर इतना सारा पैसा बर्बाद करने की आलोचना की है.

हालांकि नगर निगम बार बार सफाई दे रहा है कि इस दीवार का उस यात्रा से कोई लेना देना नही है ये अलग कार्य है फिर भी जब मुद्दे को राजनीतिक कर दिया गया है तो फिर कही न कही ये बाते सामने आयेगी. इससे जाहिर तौर पर अमेरिका को नाराजगी होगी अगर उनके राष्ट्रपति के लिए हो रही तैयारियों पर मेजबान देश में ही लोग सवाल उठाने लगेंगे.