देश भर में CAA का विरोध होने पर पीएम मोदी ने बताया अपना फाइनल फैसला, कही ये बात

339

पिछले सत्र में सरकार ने एक ऐसा क़ानून पास किया था जिसे लागू हुए तो महीनो बीत चुके है लेकिन इस पर बवाल थमने का नाम ही नही ले रहा है. विपक्ष हो या फिर कुछ समुदाय विशेष के लोग हो कही न कही सभी लोग इसके विरोध में खड़े हो रहे है और शाहीन बाग तो पिछले दो महीने से भरा हुआ है. इसके बाद में सभी को कही न कही लगा कि वो सरकार पर दबाव बना पाने में कामयाब हुए है लेकिन पीएम मोदी के हाल ही के बयान को देखकर के तो ऐसा बिलकुल भी नही लगता है.

चाहे जितना भी दबाव पड़े, हम कायम है और आगे भी कायम रहेंगे
प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी इन दिनों अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर है जहाँ पर वो चंदौली में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि महादेव के आशीर्वाद से आज देश वो सारे फैसले ले रहा है जो पहले पीछे छोड़ दिए जाते थे. जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाना हो या फिर सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट हो, इन फैसलों का देश को लम्बे समय से इन्तजार था.

देश के हित हेतु ये फैसले लेने बेहद ही जरूरी थे और दुनिया भर के दबाव के बावजूद हम इन फैसलों पर कायम है और आगे भी कायम ही रहेंगे. हमारी सरकार समाज में आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुँचने के लिये उस तक विकास को पहुंचाने के लिये काम कर रही है. अब स्थितियां बदल रही है , उसे सर्वोच्च प्राथमिकता मिल रही है और काशी एक है लेकिन काशी के रूप अनेक है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस संबोधन में क्लियर कर दिया कि अब विपक्ष चाहे सदन में हंगामा करे या फिर शाहीन बाग में औरते धरने पर बैठी रहे मगर सरकार अपने फैसले से एक इंच भी पीछे नही हटने वाली है. खैर मोदी और शाह की जोड़ी जानी भी इसी बात के लिये ही जाती है कि वो जो फैसला कर लेते है बस वही फाइनल होता है.