केजरीवाल को जीतता देखकर मनजिंदर सिरसा ने लगाया ये गंभीर आरोप

612

दिल्ली में 11 बजते बजते चुनावी नतीजे काफी हद तक साफ़ हो चुके है जहाँ पर आम आदमी पार्टी को एक तरफ 50 से अधिक सीट मिल रही है वही भारतीय जनता पार्टी 20 के आंकड़े को पार नही कर पा रही है. तस्वीर लगभग साफ़ हो चुकी है और आम आदमी पार्टी को मिल रही इस बढ़त को देखकर के मनजिंदर सिरसा थोड़े से नाराज है और उनकी नाराजगी आम आदमी पार्टी से कम कांग्रेस पार्टी से ज्यादा है क्योंकि वो चैनल की डिबेट में भी उन्हें ही टार्गेट करते हुए नजर आये थे.

कांग्रेस ने अपने सारे वोट आम आदमी पार्टी को ट्रांसफर करवा दिये, वरना बीजेपी का आंकड़ा अलग होता
जब रिपब्लिक चैनल में बात करने के दौरान भाजपा के सहयोगी अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा से पूछा गया कि आप कह रहे थे कि बीजेपी तो इतनी सीट्स जीतेगी और सरकार बनाएगी. अब बताइए ऐसा क्यों नही हुआ? इस पर जवाब देते हुए सिरसा ने कहा कि बिलकुल हमें ऐसा लगता था लेकिन हमें ये नही पता था कि कांग्रेस इस तरह से सरेंडर कर देगी और बूथ लेवल पर अपने सारे वोट आम आदमी पार्टी को ट्रांसफर कर देगी, अगर ऐसा न होता तो नतीजे कुछ और ही होते.

ये बात सिर्फ सिरसा ही नही कह रहे बल्कि बीजेपी और उनके समर्थित दलों के कई नेता कह रहे है कि अगर कांग्रेस ने वाकई में अच्छे से चुनाव लड़ा होता तो आम आदमी पार्टी के वोट बंट जाते और बीजेपी को बढ़त मिल सकती थी लेकिन ऐसा हो नही पाया. अब कांग्रेस ने ये जान बूझकर के किया या फिर बस मन के हारे हार गये ये कोई भी नही जानता है और न ही अनुमान लगा सकता है.

हालांकि कांग्रेस पार्टी इन दिनों यही रणनीति ज्यादा खेल रही है. हर राज्य में क्षेत्रीय पार्टियों को तरजीह दे रही है और उन्हें सत्ता में आने का मौका भी दे रही है ताकि लोकसभा चुनावों में उनसे समर्थन हासिल करके भारतीय जनता पार्टी को टक्कर दी जा सके.