केजरीवाल और स्मृति ईरानी आपस में भिड़े, ये थी वजह

73

दिल्ली में चुनाव चल रहे है और सभी के सभी लोग आपस में एक दुसरे के आमने सामने हो रखे है. जिस तरह की स्थिति बनी हुई है उसके बाद में इतना तो साफ़ है कि रिजल्ट चाहे जो भी रहे लेकिन मामला टक्कर का है और आम आदमी पार्टी से भारतीय जनता पार्टी हर सीट पर सीधे टक्कर ले रही है. दोनों ही तरफ के नेता आपस में भोंहे खींचकर के खड़े ही और इन सबके बीच आपस में टकराव हुआ है स्मृति ईरानी और अरविन्द केजरीवाल का और दोनों ट्विटर पर एक दुसरे से झगड़ने लग गये.

महिला वोट पर स्मृति ने केजरीवाल को बताया गलत, फिर पलट कर मिला जवाब
दरअसल वोट चल रहे है और इन सबके बीच अरविन्द केजरीवाल ने ट्विटर के माध्यम से अपील की कि सभी महिलाए वोट करने के लिए जरुर जाए. जिस तरह से आप घर की जिम्मेदारी निभाती है उसी तरह से देश की जिम्मेदारी भी आपके कंधो पर है. पुरुषो को भी साथ ले जाए और वोट किसे देना है इस पर उनसे चर्चा भी जरुर करे.

स्मृति ईरानी ने इस पर केजरीवाल को आड़े हाथो लिया और कहा कि क्या केजरीवाल महिलाओं को इतना सक्षम भी नही समझते कि वे वोट किसे देना है वो भी निर्धारित नही कर सकती है? अरविन्द केजरीवाल ने फिर इसी बात पर जवाब देते हुए कहा ‘स्मृति जी इस बार दिल्ली की महिलाओं ने तय कर लिया है कि वोट किसे देना है? और तो और इस बार उन्होंने अपने पूरे परिवार का भी वोट खुद ही तय किया है, आखिर घर भी तो उन्हें ही चलाना होता है.’

स्मृति ईरानी और अरविन्द केजरीवाल के बीच में छिड़ी इस ट्विटर पर ज़ुबानी जंग में कुछ लोग स्मृति ईरानी को सपोर्ट करते नजर आये तो कुछ केजरीवाल के समर्थन में दिखे लेकिन वाकई में दिल्ली की जनता किसके साथ में खड़ी है? ये आने वाले महज दो दिनों के भीतर पता लग ही जाएगा.