दिल्ली में चुनाव से पहले बीजेपी को भारी बढ़त, बढ़ जायेगी इतनी सीटे

758

दिल्ली के चुनावो में अब 50 घंटे के आस पास का समय ही बच रहा है और लगातार सभी पार्टियां कही न कही पूरा जोर लगा रही है कि किसी न किसी तरह से ये चुनाव जीत लिए जाए और ये कही न कही आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के लिए तो एक तरह से नाक का सवाल ही बन गया है क्योंकि जिस तरह से ये दोनों ही पार्टियां एक दुसरे के खिलाफ आ खड़ी हुई है ऐसा भारतीय राजनीति के इतिहास में कम ही देखने को मिलता है.

शुरू में केजरीवाल का नही था कोई तोड़, मगर शाहीन बाग़ और पीएम मोदी की रैलियों से भाजपा का कमबैक
अगर आज से पहले की बात करे एक महीने पहले की तो केजरीवाल के मुकाबले बीजेपी 10 प्रतिशत वोट भी मुश्किल से हासिल आकर पा रही थी थी लेकिन पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में शाह और मोदी ने लगातार कई रैलियाँ की है, शाहीन बाग़ के मुद्दे ने जोर की हवा पकड़ी और तो और इसके बाद में कही न कही यहाँ की हवा बदलती हुई साफ तौर पर नजर आ रही है.

अभी हाल ही में आये सी वोटर सर्वे के मुताबिक़ आम आदमी पार्टी को 42 से 56 सीट तक मिल सकती है जबकि बात करे भाजपा की तो बीजेपी को 10 से 24 सीट्स तक मिली है वही कांग्रेस तो दहाई के अंक को भी छूने के काबिल नही है. अब सबसे बड़ा फर्क आया है वोट प्रतिशत में जहाँ पर आप के वोट प्रतिशत का अनुमान 45.6 प्रतिशत लगाया गया है जबकि बीजेपी का वोट प्रतिशत बढ़कर के अब 37.1 प्रतिशत तक पहुँच गया है यानी बीजेपी अब आम आदमी पार्टी सिर्फ सिर्फ और सिर्फ 8 प्रतिशत वोट पीछे है जबकि पहले ये खाई ज्यादा थी.

पहले अनुमान लग रहे थे कि बीजेपी तीस प्रतिशत वोट भी हासिल नही कर पायेगी मगर अब ये जबरदस्त बढ़त हासिल की है और अगर अगले दो दिन में और ज्यादा जोर लगाया जाए तो ये काफी ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है और बीजेपी और भी बढ़त हासिल कर सकती है.