संजय राउत की वजह से शिवसेना का सिंहासन खतरे में, सामने आयी ये वजह

721

संजय राउत को शिवसेना में एक बहुत ही काम का नेता माना जाता है लेकिन इन दिनों में उनके और उद्धव ठाकरे के बीच में बढ़ रही न सिर्फ दूरियां बल्कि राउत की वजह से शिवसेना को फेस करनी पड़ रही मुश्किलें भी सामने आ रही है जो कही न कही समस्या तो है और ऐसी ही समस्याओं का अम्बार का कारण राउत को माना जा रहा है. आखिर ऐसा क्यों है ये बात चलिए हम जरा समझ भी लेते है क्योंकि कुछ महीने पहले तो राउत शिवसेना और ठाकरे परिवार के एक तरह से सेनापति टाइप नजर आते थे.

राउत के बयानों से कांग्रेस हो रही बार बार नाराज, ज्यादा कद बढ़ने से भी ठाकरे परिवार नाराज
संजय राउत लगातार कुछ न कुछ ऐसे बयान दे रहे है जिससे शिवसेना के साथ दल और ख़ास तौर पर कांग्रेस पार्टी के लोग शिवसेना से नाराज हो रहे है. कभी वो कहते है ‘इंदिरा करीम से जाकर के मिलती थी.’ कभी उनके मुंह से निकलता है ‘सावरकर पर बोलने वालो को दो दिन अंडमान की जेल में बिताने चाहिए.’ इससे कही न कही गठबन्धन में समस्या पैदा हो ही सकती है.

इन सबसे परे एक और समस्या भी ही जो सर उठाती जा रही है और वो ये है कि संजय राउत का कद जरूरत से ज्यादा बढ़ चुका है. जब उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनने की इच्छा नही थी और आदित्य ठाकरे को छोटा माना जा रहा था तो ऐसे में संजय राउत का नाम काफी आगे किया गया. इससे उद्धव तो नही लेकिन ठाकरे परिवार के लोग खुश नही थे और ऐसा पंजाब केसरी की रिपोर्ट कहती है. यही नही जब उद्धव ठाकरे संजय राउत के भाई सुनील राउत को सरकार में लेना चाह रहे थे तो उनके ही परिवार वालो ने उन्हें रोक दिया.

अब ऐसे में क्या संजय राउत अपनी उस स्थिति को बरकरार रख सकेंगे ये बात लोग भी नही जानते है क्योंकि शिवसेना में आखिर होता तो वही ही है जो ठाकरे परिवार का फैसला होता है.