शिवसेना और कांग्रेस की खटपट आयी सामने, संजय राउत ने दिया ये बयान

285

अभी कुछ समय पहले क्या हुआ है ये बात हम सभी लोग जानते है. महाराष्ट्र में बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए और अपनी सरकार बनाने के लिए शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ में गठबंधन किया था और ये सरकार अभी चल भी रही है. अब सरकार में हिस्सेदार होना भला किसे अच्छा नही लगता है? सभी को ही लगता है और इसमें कुछ गलत भी नही है मगर फिर दोनों के बीच में कुछ चीजो को लेकर के विवाद होने लगे जो कि खुलकर के सामने भी आये है.

संजय राउत ने किया दावा, इंदिरा गांधी करीम से मिला करती थी
संजय राउत ने हाल ही में एक बयान दिया है जिसमे उन्होंने बयान देते हुए कहा कि देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई के काफी बड़े बदमाश कहे जाने वाले करीम से मिलती थी और उसके इलाके में जाकर के मिलती थी. संजय राउत के इस बयान पर अच्छा खासा बवाल हो गया और लोग तरह तरह की बाते कहने लगे क्योंकि राउत ने तो करीम लाला का इंदिरा की जीत के पीछे हाथ तक बता दिया.

अब ऐसे में कांग्रेस के नेता मिलिंद देवड़ा ने संजय राउत को चेताया और कहा कि वो अपना बयान वापिस ले तब संजय राउत तुरंत हरकत आये. इसके बाद उन्होंने कहा कि अगर इससे किसी को बुरा लगता है या फिर लगता है कि इंदिरा गांधी का अपमान होता है तो मैं अपने शब्द  वापिस लेता हूँ. खैर अब वापिस लेने से क्या होता है? जो कहना था सो तो कह चुके और इससे साफ़ होता है कि कांग्रेस और शिवसेना के बीच की खटपट जो चल रही है वो धीरे धीरे बाहर आ रही है.

बीजेपी भी मौके पर लपकते हुए इसे ही इनके गठंधन का सच बता रही है. इस तरह की तमाम बाते है जो कही न कही बताती है कि जो हुआ सो गलत ही हुआ है और ऐसे में हम लोगो को महाराष्ट्र की राजनीति समझने में मुश्किल होनी लाजमी है.