अमेजन के मालिक से नाराज है पीयूष गोयल, कहा ‘कोई एहसान नही कर रहे हो’

246

इन दिनों अमेजन के मालिक जेफ़ बेजोस भारत के दौरे पर है और उनका ये दौरा काफी हाई प्रोफाइल माना जा रहा है क्योंकि वो कई बड़े बड़े वादे कर रहे है और भारत में ई कॉमर्स को एक नए मुकाम पर ले जाने की बाते तक कर रहे है लेकिन लगता है कि भारत की सरकार अमेजन से और उसके मालिक से काफी ज्यादा नाराज है और इस नाराजगी के पीछे की वजह भी है जिस पर पीयूष गोयल खुलकर के बोल रहे है और उन्हें चेतावनी भी दे रहे है कि भारत की सरकार को किसी भी एंगल से कम न आंका जाये.

ट्वीट कर चेताया, फिर कांफ्रेस में भी सीधे मुंह बोली बात
पीयूष गोयल ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट से लिखा और कहा ‘मैं कई मौको पर भारत की पब्लिक और सभी निवेशको से भी कह चुका हूँ कि सभी लोग क़ानून और उसके उद्देश्यों की पालना करे. कम्पनिया जो भी मौजूदा क़ानून बना हुआ है उसके अन्दर की खामियों का फायदा उठाने का प्रयास करना बंद कर दे.’

गोयल सिर्फ ट्विटर पर ही नही रुके बल्कि एक सिक्यूरिटी काउंसिल में भी उन्होंने बयान देते हुए कहा कि चाहे उन्होंने अपने व्यापार में एक अरब डॉलर लगाया हो और उनको हर साल एक अरब डॉलर का नुकसान भी हो रहा हो तो इसकी भरपाई भी उन्हें ही करनी पड़ेगी. इसलिए अगर वो भारत में एक अरब डॉलर का निवेश कर रहे है तो वो भारत पर कोई बड़ा एहसान नही कर रहे है. सरकार ने ई कॉमर्स कम्पनियों को मार्किटप्लेस मॉडल के तहत निवेश की मंजूरी दी है और अगर वो कायदों का पालन करते रहते है तो निवेशको का स्वागत हम भी करेंगे.

दरअसल मोदी सरकार इन दिनों अमेजन और उसके मालिक से काफी नाराज चल रही है. इसके पीछे का पहला कारण तो ये है कि जेफ़ का अमेरिकी अखबार मोदी सरकार की आलोचना करता रहता है और दूसरा ये कि अमेजन पर कई कानूनों के उल्लंघन का आरोप लगा है जिसकी जांच सीसीआई कर रहा है.