बीजेपी और राज ठाकरे के करीब आने से विपक्षियो में मची खलबली, सामने आया ये बयान

794

महाराष्ट्र की राजनीति अब पूरी तरह से बदल चुकी है और किस हद तक बदली है ये बात किसी को भी बताने की जरूरत तक नही है. वाकई में इस राजनीति की उम्मीद तो किसी ने की तक नही होगी की इस तरह से शिवसेना कांग्रेस के आगे आत्मसमर्पण कर लेगी और विचारधारा से भी समझौता करते हुए महाराष्ट्र में सरकार बनायेगी. खैर बीजेपी भी अब अपना नया साथी ढूँढने में काफी हद तक कामयाब नजर आ रही है और वो साथी है राज ठाकरे. इनकी करीबियां देखकर के विपक्षियो में मची हुई भगदड़ क्योंकि ये गठबंधन किसी को भी हरा सकता है.

अबू आजमी ने कहा, बीजेपी के आगे घुटने न टेके राज ठाकरे
जाने माने नेता और अक्सर ही विवादित बयानों से अपनी पहचान बनाने वाले अबू आजमी ने बयान देते हुए कहा है कि उन्हें राजनीतिक फायदे के लिए अब बीजेपी के सामने घुटने नही टेकने चाहिए. अबू आजमी तो ये तक कह गये कि थूककर के चाटना कोई अच्छी बात नही होती है. ये आजमी ने उन बयानों के सन्दर्भ में कहा है जब राज ठाकरे चुनावों के वक्त मोदी सरकार को भाषणों में घेरा करते थे.

अभी तो सिर्फ ये एक आवाज है. अगर बीजेपी और मनसे महाराष्ट्र में करीब आ जाती है तो ऐसी दर्जनों आवाजे उठेगी क्योंकि इनके गठबंधन में बहुत ही ताकत है जो शिवसेना के गठबंधन को भी आराम से मात दे सकती है. आपको बता दे अभी पिछले कुछ दिनो में ही इन दोनों के बीच में मीटिंग वगेरह भी देखने में मिली है जिसमे फडनवीस और राज ठाकरे शामिल हुए थे और ये चीज ही इनकी सरगर्मियां बढ़ा रही है और काफी लोगो को टेंशन भी दे रही है जिनके लिए सत्ता का भोग ही वाकई में सब कुछ है.

खैर जो भी है इतने समय में कही न कही बीजेपी को एक साथी तो तलाशना ही था क्योंकि अगर महाराष्ट्र में तीन तीन पार्टियों से एक साथ में लोहा लेना है तो एक साथी तो चाहिए.