इस बड़े नेता का दावा, शिवसेना से उनके 35 विधायक असंतुष्ट

686

फ़िलहाल शिवसेना की हालत चाहे सरकार के अन्दर हो लेकिन एक बात जाहिर है कि उन्होंने कांग्रेस के साथ में गठबंधन करके एक बहुत ही बड़ी आफत मोल ले ली है और वो है अपने ही लोगो की नाराजगी और ये बात सभी लोग जानते है. शिवसेना के कांग्रेस पार्टी के साथ में जाने के बाद से ही लगातार उनकी ही पार्टी के कई नेता उनकी पार्टी छोड़कर के रूखसत हो रहे है और कई नेता है जो बीजेपी ज्वाइन कर रहे है क्योंकि उनके लिए विचारधारा सत्ता से अधिक मायने रखती है. इसी बीच नारायण राणे ने बड़ा दावा कर दिया है.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण का दावा, शिवसेना से फ़िलहाल 35 विधायक असंतुष्ट है
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके नारायण राणे ने हाल ही में बड़ा दावा किया है जिसमे उन्होंने कहा है कि वर्तमान की सरकार और उसकी नीतियों से शिवसेना के 56 में से 35 विधायक असंतुष्ट है. वो इसी के साथ ये विश्वास भी जता रहे है कि बीजेपी जल्द ही सत्ता में लौटने वाली है तो क्या ऐसा होगा कि शिवसेना के कई विधायक जो असंतुष्ट है वो भाजपा में शामिल होने की सोच रहे है?

यही नहीं नारायण राणे तो ये तक कहा कि ये सरकार पूरी तरह से नकारा है. इन्होने किसानो की कर्ज माफ़ी जैसे वादे किये थे जो अब सत्ता में आते ही बिलकुल खोखले साबित हो रहे है. उद्धव ठाकरे हाल ही में औरंगाबाद गये थे लेकिन वहाँ पर वो बिना किसी योजना की घोषणा किये या फिर बिना कोई भी फण्ड दिए ही आ गये.  हम ऐसी सरकार से उम्मीद भी क्या कर सकते है? उन्हें सरकार चलाने के बारे में कुछ मालूम तक नही है.

बीजेपी जब से सत्ता से बाहर गयी है तब से ही वो महाराष्ट्र में काफी आक्रामक रूख बनाये हुए है और लगातार उद्धव ठाकरे को इस बात को लेकर के कोस रही है कि उन्होंने कांग्रेस जैसी पार्टी से गठबंधन कर लिया. खैर अभी 35 विधायको वाला दावा कितना सही निकलता है ये तो वक्त ही बता पायेगा.