अगले महीने अमित शाह छोड़ सकते है भाजपा अध्यक्ष का पद, अब इन्हें मिलेगी अध्यक्ष की गद्दी

365

भारतीय जनता पार्टी में अमित शाह पिछले काफी लम्बे समय से अध्यक्ष पद से है और ये बात हम लोग भी जानते ही है कि शाह के कार्यकाल के दौरान बीजेपी का न सिर्फ संगठन मजबूत हुआ है बल्कि साथ ही साथ में उन्होंने दर्जनों सरकारे भी बनवा दी है मगर अब क्योंकि भाजपा एक लोकतान्त्रिक पार्टी है तो ऐसे में एक ही व्यक्ति को अधिक समय तक अध्यक्ष पद दिया जाना वाजिब नही समझा जाता है क्योंकि इससे दूसरो को मौका नही मिल पाता और ऐसे में खबरे चल पड़ी है कि अगले महीने यानी फरवरी में शाह ये तख़्त खाली कर सकते है.

जेपी नड्डा संभालेंगे भाजपा अध्यक्ष पद, शाह संभालेंगे गृह मंत्रालय
जेपी नड्डा फ़िलहाल भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष है यानी जब भी शाह उपस्थित नही होते है तो नड्डा ही सारा काम देखते है जो अध्यक्ष से जुड़ा होता है मगर अब क्योंकि शाह पूर्ण रूप से सरकार में जा रहे है और सरकार का कामकाज देख रहे है तो उनपर प्रेशर भी बढ़ता ही है. ऐसे में वो अब संगठन की जिम्मेदारी पूर्ण रूप से जेपी नड्डा को सौंप सकते है और नड्डा वाकई में काबिल व्यक्ति है इस बात में कोई शक नही है.

हालांकि ये पहले ही तय हो गया था कि शाह 2019 में ही अध्यक्ष पद छोड़ देंगे लेकिन फिर राजस्थान, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र जैसे बड़े राज्यों के चुनाव आ गये और ऐसे में पार्टी संगठन में बदलाव का कोई रिस्क लेना नही चाह रही थी जिसके चलते अमित शाह को ही अध्यक्ष बने रहने के लिए कहा गया और इसी कारण से वो गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष दोनों के ही पद संभालते रहे ताकि संतुलन बना रह सके और कही न कही वो इसमें कामयाब हुए भी है.

जेपी नड्डा जिन्हें भाजपा के भविष्य के रूप में देखा जा रहा है वो भी एक कामयाब नेता के रूप में उभरते है. पिछले यूपी के राज्य स्तरीय चुनावों में भी विजय में उनका बहुत ही बड़ा हाथ माना जाता है. नड्डा को एक अच्छा रणनीतिकार माना जाता है.