दीपिका पादुकोण जेएनयू के छात्रो का सपोर्ट करने पहुंची, ये है उसके पीछे की मजबूरी

316

जेएनयू में इन दिनों में जो कुछ भी हो रहा है वो हम सभी लोग बेहतरी के साथ में जानते है. लेफ्ट से जुड़े हुए छात्र हर जगह पर प्रदर्शन कर रहे है और उनका प्रदर्शन करना लाजमी भी है क्योंकि उनकी विचारधारा से इतर की सरकार है और वो इसमें जी जान से जुटे हुए है लेकिन हाल ही में दीपिका पादुकोण भी जेएनयू के नेता कन्हैया कुमार के प्रदर्शन में पहुँच गयी और उनका समर्थन करने लगी. तस्वीरे रातो रात वायरल हो गयी और लोग कहने लगे कि दीपिका क्या वाकई में लेफ्ट पार्टी सपोर्टर है?  तो इसका जवाब आपको मुंबई में मिल जाएगा.

बदल गयी है स्टेट में सरकार, खुश करने के लिये जी जान से जुटा है बॉलीवुड
अब से कुछ महीने पहले अक्टूबर 2019 में दीपिका पादुकोण में दीपिका पादुकोण ने पीएम मोदी की जबरदस्त तारीफ की थी और भारत की लक्ष्मी का प्रतिनिधित्व भी किया था. मगर अब जैसे ही स्टेट में बीजेपी सत्ता से बाहर हुई तो वही दीपिका पादुकोण सरकार के खिलाफ हो रहे क्रमबद्ध आंदोलनों का हिस्सा बनने आ गयी. यानी विचारधारा से कोई लेना देना नही है, मकसद सिर्फ अगले पांच साल तक रहने वाली एनसीपी और कांग्रेस समर्थित सरकार को खुश रखना है ताकि वो उनके काम काज और बिजनेस में टांग न अडाये.

अब सिर्फ दीपिका ही नही बल्कि कई बड़े बड़े लोग सुशांत सिंह, अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू वगेरह भी दिल्ली के लिए मुंबई में प्रदर्शन कर रहे है और गेटवे ऑफ इंडिया तक जा रहे है. जब तक महाराष्ट्र में फडनवीस की सरकार थी तब तक मुंबई में इस तरह के प्रदर्शन नही देखने को मिलते थे लेकिन अब जैसे ही गैर भाजपा सरकार आयी तो मुंबई शहर में भी वामपंथ का प्रभाव गहराने लगा और अपना बिजनेस संतुलन बनाने के लिए बॉलीवुड के लोग उनके आंदोलनों में हिस्सा बनने लगे है.

इससे कही न कही एक बात तो साफ़ होती ही है कि जिस तरह से बॉलीवुड के लोग सरकारे बदलने के साथ ही साथ में अपना स्टैंड भी बदल लेते है उससे उनकी क्रेडिबलिटी पर शक होना तो लाजमी सी बात है.