अरविन्द केजरीवाल अब मांग रहे है बीजेपी समर्थको से वोट, वजह भी जान लो

148

दिल्ली में चुनावो की घोषणा हो चुकी है. देश में एक नए किस्म की राजनीति का आगाज करने वाली आम आदमी पार्टी का मुकाबला देश की सबसे बड़ी पार्टी भारतीय जनता पार्टी और सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस से होने जा रहा है. चुनावों की तारीख 8 फरवरी से 11 फरवरी तक रखी गयी है जिस दौरान दिल्ली की जनता अपनी सरकार चुनेगी मगर जैसे ही चुनाव आयोग ने तारीखो की घोषणा की तो सबसे पहले अरविन्द केजरीवाल सामने आये और प्रेस वार्ता करके जनता को संबोधित किया और अपने तरफ से बाते रखी.

केजरीवाल ने कहा, हम बीजेपी वालो से भी वोट मांगेंगे कांग्रेस वालो से भी वोट मांगेंगे
चुनावी घोषणा के बाद अरविन्द केजरीवाल नें प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार दिल्ली के चुनाव में हम सिर्फ सकारात्मक बाते ही करेंगे किसी पर भी हमला नही करेंगे. हम चाहते है कि दिल्ली के लोग काम के आधार पर वोट दे. आप बीजेपी के है तो अपनी पार्टी में ही रहे, कांग्रेस के है तो अपनी पार्टी में ही रहे लेकिन हम आप सबसे वोट जरुर मांगेंगे और आप भी दिल्ली के विकास के आधार पर काम के आधार पर वोट दीजिये. अगर हमने काम नही किया है तो हमें वोट मत देना.

केजरीवाल ने कहा है कि वो और उनकी पार्टी के लोग सभी के घर घर जाकर के वोट मांगेंगे वो चाहे बीजेपी के लोगो का ही घर क्यों न हो? केजरीवाल कहते है कि इस बार चुनाव का मुद्दा होगा स्कूल, शिक्षा, बस में सफ़र, तीर्थ यात्रा वगेरह वगेरह जो हमने करके दिखाया है. दिल्ली की जनता ने पिछली बार हमें 68 सीट्स दी थी लेकिन इस बार जनता अपना ही रिकॉर्ड तोड़ने वाली है.

अब जिस तरह से केजरीवाल फिर से तैयारी में लग गये है ऐसे में बीजेपी को भी अपनी सत्ता को काबिज करने के लिए काफी मेहनत करने की जरूरत पड़ेगी और ये आसान तो कत्तई नही होने वाला है. खैर दोनों ही तरफ अपनी अपनी खूबियाँ है और खामियां भी है.