उद्धव ठाकरे और संजय राउत की दोस्ती में पड़ी दरार? इस बयान से हलचल तेज

556

अगर हम लोग आज के समय में बात करे कि उद्धव ठाकरे के सबसे करीबी कौन है? तो हर किसी की जुबान पर एक ही नाम आता है और वो नाम है संजय राउत. संजय राउत पिछले लम्बे समय से ठाकरे परिवार के करीबी होने के साथ ही साथ में उनके राईट हैण्ड भी बने हुए थे जो उन्हें सलाह भी देते थे कि ठाकरे को क्या करना चाहिए? मगर उद्धव के मुख्यमंत्री पद पर बैठने के बाद से ही काफी चीजे है जिनमे बदलाव नजर आने लगे है और ये बदलाव शिवसेना के लिहाज से तो अच्छे नही दिखाई पड़ते.

राउत ने फेसबुक पर किया पोस्ट, इशारों ही इशारों में उद्धव को ताना
संजय राउत ने हाल ही में अपने फेसबुक पर पोस्ट किया जिसमे वो लिखते है ‘हमेशा ऐसे व्यक्ति को संभालकर के रखिये जिसने आपको ये तीन चीजे भेंट दी हो समय साथ और समर्पण.’ राउत ने जैसे ही ये बात कही तो ये देखते ही देखते वायरल हो गयी और लाखो लोगो ने इसे देखा और शेयर भी किया मगर इस पोस्ट की कहानी पीछे ही पीछे पाक रही थी.

मीडिया सूत्र बताते है कि उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही संजय राउत की अहमियत अब कम हो गयी है. पहले की तरह उन्हें हर फैसले में शामिल नही किया जाता और न ही उन्हें कोई बड़ी पदोन्नति भी देखने को मिली है जो उन्हें कोई सरकारी ताकत से नवाजे. संजय राउत  तो क्या किसी के भी साथ में अगर ऐसा हो तो जाहिर है कि वो अपनी शिकायत तो करेगा और अब राउत ऐसी ही शिकायत खुले में आकर के ठाकरे से कर रहे है क्योंकि शायद अकेले में उनकी सुनी ही न जा रही हो.

खैर राऊत आज भी शिवसेना के सबसे बड़े चेहरों में से एक है और उनके नाम से पार्टी चलती है और उन्हें लोग मानते भी है. अब राउत की नाराजगी को कैसे दूर किया जाता है ये तो देखने वाली ही बात होगी.