मोदी सरकार में रेलवे ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड, जो पिछले 70 सालो में नही हुआ

126

भारत की नरेंद्र मोदी सरकार लगातार बहुत ही बेहतरीन तरीके से काम कर रही है और इस बात को कोई नकार भी नही सकता है क्योंकि काम वाकई में काफी बढ़िया देखने को मिला है. ख़ास तौर पर अगर हम रेलवे की बात करे तो इसमें तो काफी ज्यादा डेवेलपमेंट देखने को मिला है जिसका नमूना हमने ट्रेन 18 के रूप में तो देख ही लिया है. ये अपने आप में बड़ी बात भी है मगर एक और रिकॉर्ड है जिसके लिए रेलवे लम्बे समय से जूझ रहा था और इस बार करके दिखा ही दिया.

अब तक का सबसे सुरक्षित रेलवे वर्ष, एक भी व्यक्ति की जान नही गयी
इससे पहले तक आप सोचते होंगे कि रेलवे में सफ़र करना कितना मुश्किल और डरावना होता है क्योंकि पता नही कब क्या हो जाए? मगर ऐसा सोचने वाले रेलवे के इस रिकॉर्ड को जांच ले. ये पहला रेल वर्ष है जब रेलवे दुर्घटनाओ के कारण एक भी व्यक्ति की जान नही गयी है यानी जितने भी लोगो ने रेलवे से सफ़र किया है वो सभी सुरक्षित जान सहित अपने गंतव्य स्थल तक पहुंचाए गये. ये सिर्फ आजादी के बाद ही नही बल्कि रेलवे शुरू होनें के 166 साल बाद का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है.

इससे पहले तक रेलवे सबसे असुरक्षित साधनों में गिना जाने लगा था. हर वर्ष सैकड़ो लोगो की जाने जा रही थी जो कोई छोटा आंकड़ा तो बिलकुल भी नही है मगर जब से पीयूष गोयल ने रेलवे की कमान संभाली है उसके बाद से ही सब कुछ काफी ज्यादा आसान हो गया है और रेलवे दिन ब दिन प्रगति के नए मुकाम लिख रहा है. अब वो चाहे हाई स्पीड ट्रेनों का निर्माण हो, ट्रेनों का समय पर चलना हो, सर्विस और सफाई में सुधार हो कई काम है जो रेलवे में बेहतर हुए है और इससे वैल्यू भी बढती ही है.

एक अच्छी खबर ये भी है कि अब जल्द ही ट्रेन 20 भी भारत में आने वाली है जो भी एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है जो लगभग 150 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से दौड़ेगी और लम्बे रूट्स पर आपका सफ़र काफी ज्यादा आसान बना देगी.