370, राम मंदिर और नागरिकता बिल का विरोध करने वालो को तारेक फ़तेह ने दिया जवाब

132

मोदी सरकार इन दिनों में काफी ज्यादा एक्टिव नजर आती है. वो एक के बाद में एक फैसले ले रहे है अब वो चाहे अनुच्छेद 370 हो, तीन तलाक हो या फिर नागरिकता बिल हो हर जगह पर मोदी ने झंडे ही गाढ़ दिये है और विपक्ष के पास में तो ताकत ही नही है कि वो उन्हें रोक सके ये बात भी सच ही है. अब इस पर विरोध  भी हो रहा है और बड़ा ही जमकर के हो रहा है तो तारेक फ़तेह ने इनकी जमकर के खबर भी ले डाली है और खूब लताड़ भी लगाई है.

370 और राम मंदिर पर नाखुश हुए लोग अब इस क़ानून का विरोध करके गुस्सा निकाल रहे है
तारेक फ़तेह जो एक जाने माने स्कोलर है उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जो भी लोग पिछले वक्त से नाराज है कि मोदी ने 370 हटा दिया है, राम मंदिर के पक्ष में फैसला भी आ गया है वो लोग इस पर कुछ नही कर पाए तो अब वो इसका गुस्सा इस नागरिकता क़ानून के बहाने प्रदर्शन करके निकाल रहे है. इसके पीछे कई कट्टरपंथी संगठन और पाकिस्तानी एजेंसियां भी है जो इन्हें सपोर्ट कर रही है.

नागरिकता बिल पर तारेक फ़तेह ने ये भी माना कि हाँ हिन्दुओ को भारत में आना चाहिए. जब मुस्लिमो को न लेने पर उनसे पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि अच्छा तो किसको भारत आना चाहिए? कौन मुस्लिम वहां खुश नही है? बेनजीर भुट्टो खुश नही है? ? उनका बेटा खुश नही है? जनरल मुशर्रफ खुश नही है? या फिर पाक में बैठे वो डीप थिंकर्स खुश नही है जिनके माता पिता ने पकिस्तान बनाने के लिए जिन्ना को वोट दिया था?

ये विरोध प्रदर्शन तो सिर्फ और सिर्फ एक बहाना है इनका मकसद कुछ और ही है. तारेक फ़तेह यहाँ पर इशारा करते है कि इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ मोदी और शाह का विरोध करना है और कुछ नही है. तारेक पाक मूल के है और फ़िलहाल कनाडा में रहते है. भारत पाक संबंधो पर उन्हें काफी अच्छी जानकारी है.