जुर्माना देने से भाग रहा था प्रदर्शनकारी, योगी की पुलिस के इस अफसर ने देखिये फिर क्या किया?

387

योगी आदित्यनाथ जब से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने है तब से ही वहाँ की शासन प्रशासन से लेकर के पुलिस व्यवस्था में भी काफी ज्यादा बदलाव आये है और आने बनते भी है क्योंकि योगी आदित्यनाथ के काम करने का तरीका हे अलग किस्म का है. अब तक आन्दोलन वगेरह होते थे और उनमें सार्वजनिक सम्पति फूंक दी जाती थी और कोई पूछता तक नही था लेकिन अब यहाँ पर ऐसा नही होता है. योगी आदित्यनाथ सभी तोड़फोड़ करने वालो से ही सारे नुकसान की भरपाई कर रहे है और यूपी पुलिस एक एक को ढूंढकर के नोटिस दे रही है.

एक आरोपी भागकर रिश्तेदार के यहाँ छुपा, भेष बदलकर पहुँच गये पुलिस वाले
फिरोजाबाद में भी काफी ज्यादा तोड़फोड़ हुई थी और उसमे एक आरोपी चिन्हित किया गया लेकिन जब उससे जुर्माना वसूलने की तैयारी हुई तो वो भाग गया. अब जब वो भाग गया तो पुलिस ने पता लगवाया और पता चला वो मंटोला में किसी रिश्तेदार के यहाँ पर छुपा हुआ है. आप यकीन नही करेंगे दरोगा संजीव तोमर उसे पकड़ने के लिए भेष बदलकर के केले वाला बनकर के उसके एरिया में पहुँच गये ताकि उसे पकड़ा जा सके.

वो सस्ते में केले भी बेचते रहे ताकि आरोपी या फिर उससे जुड़ा कोई न कोई व्यक्ति पास में नजर आ सके. इस तरह से यूपी पुलिस दिन ब दिन काफी ज्यादा एडवांस होती चली जा रही है. वो चाहे काम के मामले में हो, प्रोफेशन के मामले में हो या फिर आरोपियों को ठिकाने लगाने के मामले में हो. योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद से ही हमें काफी ज्यादा बदलाव देखे है और इनकी कई लोगो ने तो बिलकुल ही अपेक्षा नही की थी.

आपको बता दे अब तक पुलिस प्रशासन सैकड़ो लोगो को जुर्माना भरने के लिए नोटिस थमा चुकी है और आगे का काम भी जारी है. ये अपने आप सिर्फ यूपी के ही नही बल्कि भारत के भी इतिहास में पहली बार हो रहा है जब सरकार इतनी सख्ती के साथ में तोड़फोड़ करने वालो के साथ में पेश आ रही है.