प्रदर्शनकारियों के खिलाफ योगी का एक्शन शुरू, इतनी मात्रा में संपतियां सील

711

इन दिनों में देश में जो माहौल बना हुआ है वो तो हम सभी लोग जानते ही है क्योंकि जिस तरह से सरकार के नए क़ानून के खिलाफ धर्म विशेष के लोग सडको पर उतर रहे है और उतर कर के तरह तरह के नुकसान कर रहे है उसे झेलकर के भी आखिर कोई कितना झेलेगा? ये भी तो सोचने वाली बात है मगर लगता है कि अब सोचने का समय चला गया है. योगी आदित्यनाथ इस मामले में एक्शन लेने में भी लग गये है जो नुकसान करवाने वालो की रूह को कंपाने वाला है.

50 से ज्यादा दुकाने सील, 3 हजार लोगो को नोटिस
योगी आदित्यनाथ ने पहले ही ऐलान कर दिया था कि जिन लोगो ने भी प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक सम्पतियो को नुकसान पहुंचाया है उनकी निजी सम्पति को जब्त करके उनसे वसूली की जायेगी. इसके लिए बाकायदा क़ानून भी बना हुआ है और ऐसे में योगी सरकार ने कार्यवाही की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. पचास से ज्यादा दुकाने फ़िलहाल सील कर दी गयी है जहाँ पर प्रदर्शन करने वाले लोग जमा हो रखे थे और तीन हजार लोगो को नोटिस भी भेजा गया है जहाँ उन्हें स्पष्टीकरण देना होगा.

कई लोग गिरफ्तार हुए है और गिरफ्तार होने का मतलब तो साफ़ है कि उनके खिलाफ कार्यवाही पक्की है क्योंकि वो मौक़ा ए वारदात से पकडे गये थे. अब इन पर भी भारी जुर्माना लगेगा जिसे उन्हें चाहे कुछ भी हो भरना तो पड़ेगा और पास में पैसा न होने की सूरत में जेल भी जाना पड़ सकता है और आपको बता दे इस तरह के क़ानून कांग्रेस पार्टी लाकर के गयी थी.

फिलहाल उत्तर प्रदेश में हालात सामान्य नही है. कानपुर, मेरठ, वाराणसी और लखनऊ में प्रदर्शन काफी जोरो पर है जिसे काबू करने के लिए पुलिस सडको पर अपनी जान हथेली पर लेकर के चल रही है और इन्टरनेट सेवाये भी अधिकतर जगहों पर रोक दी गयी है.