अब चिदम्बरम ने अमित शाह पर लगाया ये बड़ा आरोप

41

अभी फ़िलहाल के दिनों में ही चिदम्बरम जेल से छूटकर के आये है और उन्हें चैन की सांस मिली है ये बात भी हम लोग जानते ही है मगर जिस तरह से वो वापिस आये है उसके बाद में उसके बाद से उनके भाजपा पर बयान पर बयान आ रहे है और इस बार तो उन्होंने सीधे सीधे तौर पर बीजेपी के सबसे दिग्गज नेता और गृह मंत्री अमित शाह समेत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नरेंद्र मोदी पर भी कई सारे आरोप मढने शुरू कर दिए है जो शायद उन्हें पोलिटिकल माईलेज दिलवा सकते है.

अमित शाह के लाये हुए क़ानून को बताया असवैधानिक, ये सिर्फ हिन्दू राष्ट्र का एजेंडा
पी चिदम्बरम ने जेल से बाहर आते ही राजनीति शुरू कर दी है और इसी के सिलसिले में उन्होंने एक इंटरव्यू दिया जिसमे उन्होंने कहा कि शाह ने मोदी सरकार की तरफ से ये जो नागरिकता बिल लाया है और क़ानून बनाया है वो पूरी तरह से असवैधानिक है. अगर उन्हें शरण देनी थी जिन पर अत्याचार हो रहा है तो फिर उन्होंने श्रीलंका के तमिलो को क्यों शामिल नही किया? ये सिर्फ इनकी राजनीति है और ये हिन्दू राष्ट्र के करीब खुदको दिखाना चाह रहे है.

चिदम्बरम ने तो ये तक कहा कि अटोर्नी जनरल को हमारे सामने लाये और बताये कि इस तरह का कानून कैसे लाये? मुझे पूरी भरोसा है कि वो लोग ऐसा कर ही नही पायेंगे. इस तरह से चिदम्बरम ने बाद में सरकार को अर्थव्यवस्था के मामले में घेरा और कहा कि सरकार समझ नही पा रही है कि उन्हें करना क्या है? समस्या डिमांड की है जबकि वो सप्लाई पर काम कर रहे है.

यही नही जहाँ जीएसटी को कम किया जाना चाहिए था और कॉर्पोरेट टैक्स कम किया जान चाहिए था वही दूसरी तरफ ये सरकार उसका उलटा ही कर रही है. कुल मिलाकर के देखे तो चिदम्बरम जितना वक्त जेल में रहकर के आये है उसकी कसार अब निकाल रहे है और निकाले ही जा रहे है.