उद्धव ठाकरे को 6 साल की बच्ची ने लिखा पत्र, कही ये बात

302

उद्धव ठाकरे अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बन चुके है. अब उन्होंने बनने के लिए चाहे किसी भी तरह की तिकडम का सहारा लिया हो लेकिन अब अंतिम सत्य तो यही है कि फ़िलहाल महाराष्ट्र की सत्ता उनके हाथ में है और वहाँ के स्थानीय लोग अब उनसे ही उम्मीद लगाकर के बैठे हुए है और ये उम्मीद एक छोटी सी बच्ची के पत्र में देखने में मिलती है जो अभी हाल ही में इन्टरनेट पर आया है और और लोग उस बच्ची की मासूमियत की दाद दे रहे है जिसे अपने पापा से इतना ज्यादा प्यार है कि वो मुख्यमंत्री से मांग करने निकल पड़ी.

मेरे पिताजी की तनख्वाह बढ़ा दीजिये, ताकि वो मेरे साथ टाइम बिता सके
महाराष्ट्र में एक जगह पड़ती है अम्बड जहाँ पर श्रेया हराले नाम की बच्ची रहती है और श्रेया चाहती है कि उसके पापा उसके साथ में वक्त बिताये मगर काम ज्यादा और तनख्वाह कम होने की वजह से उन्हें ओवर टाइम करना पड़ता है. ऐसी स्थिति में श्रेया ने उद्धव ठाकरे को चिट्ठी इस उम्मीद में लिखी है कि वो शायद उसकी बात को सुन ले और उसके पापा उसके पास ज्यादा रहने लगे.

चिट्ठी में श्रेया ने लिखा ‘मैं आपसे अनुरोध करती हूँ कि आप मेरे पापा का वेतन बढ़ा दीजिये ताकि उन्हें ओवर टाइम न करना पड़े और वो अपना ज्यादा समय घर पर मेरे साथ में बिता सके, मुझे स्कूल छोड़ने के लिये जा सके.’ श्रेया की कही हुई ये बाते इन्टरनेट पर तैर रही है और इससे मालूम चलता है कि लोग आजकल की भाग दौड में किस तरह से अपना सब कुछ यहाँ तक कि परिवार भी छोड़कर के सिर्फ और सिर्फ पैसा कमाने में लगे हुए है.

ये अपने आप में चिंता का विषय भी है वही श्रेया के पिता कहते है कि वो एक अम्बड के ही डिपो में काम करते है और श्रेया हमेशा साथ बैठने और बाते करने के लिए जिद करती है लेकिन काम की वजह से मैं ऐसा ज्यादा कर नही पाता हूँ.