योगी आदित्यनाथ ने हर परिवार से राम मंदिर के लिये एक पत्थर और इतने रूपये देने को कहा है

56

सुप्रीम कोर्ट का मंदिर निर्माण के लिये आदेश आ चुका है, सरकार भी ट्रस्ट बनाने के कार्य में लगी हुई है जो कि मंदिर बनाने का काम करेगा. वैसे ये काम अपने आप में जरूरी भी है मगर अब इतना विशाल और भव्य मंदिर बनाना है तो रकम भी अच्छी खासी हजारो करोडो में खर्च होने वाली है. वैसे इस पर अब तक कुछ भी आधिकारिक तौर पर कहा नही गया था लेकिन खुद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद ने अब इस पर अपनी तरफ से एक बयान जारी कर दिया है.

जल्द बनायेंगे राम मंदिर, हर परिवार को देना चाहिए एक पत्थर और 11 रूपये देने चाहिये
योगी आदित्यनाथ ने बड़ी ही ख़ुशी के साथ में इस बात की मांग की लेकिन इस पर विवाद खड़े होने लगे है. योगी जी बागोदर में बीजेपी उम्मीदवार की रैली को संबोधित करने के लिये पहुंचे थे जहाँ पर उन्होंने बयान देते हुए कहा कि 500 साल पुराना ये विवाद नरेंद्र मोदी के प्रयास से सुलझ सका है. कांग्रेस जैसी पार्टीया लम्बे समय से चले आ रही थी और ये इस विवाद को हल नही होने देना चाहती थी.

बहुत ही जल्द अब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा और इसके लिये हर किसी के परिवार को एक एक पत्थर और 11 रूपये का योगदान देना चाहिये. अब योगी आदित्यनाथ के इस बयान पर विपक्ष के लोग काफी ज्यादा आक्रामक हो रहा है. कुछ लोग पूछ रहे है कि आखिर जो पैसा पहले जमा हुआ था वो कहाँ पर चला गया? वही कई लोग ये भी कह रहे है कि बिना आधिकारिक घोषणा या फिर फंड निर्माण के पैसा कैसे डिपोजिट करवा पायेंगे?

तमाम बाते हो रही है लेकिन योगी आदित्यनाथ तो अपना बयान देकर के निकल लेते है फिर जिसको जो सोचना है जो करना है करता रहे हमें उससे कोई भी फर्क थोड़ी न पड़ता है और कही न कही ये बात लागू होती भी है. खैर जो भी है इस तरह के मामलो में अक्सर राजनेताओं को सावधानी तो बरतनी ही चाहिए.